हरियाणा विधानसभा में खट्टर सरकार ने अविश्वास प्रस्ताव पर हुई वोटिंग में जीत हासिल कर ली है। अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में 32 और विपक्ष में 55 वोट पड़े। यहां ध्यान रहे कि विधानसभा में कांग्रेस के 30 विधायक हैं। वोटिंग से पहले अविश्वास प्रस्ताव पर बोलते हुए मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि यह प्रस्ताव लाने के लिये कांग्रेस का धन्यवाद। कांग्रेस की मृगतृष्णा कभी पूरी नहीं होगी।
खट्टर ने कहा, ''नो कॉन्फिडेंस 'कांग्रेस की संस्कृति है। जब पार्टी चुनाव हार जाती है, तो उसे ईवीएम पर विश्वास नहीं होता है, सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत मांगते हैं। अगर कांग्रेस सत्ता में रहती है तो सब ठीक है, लेकिन अगर बीजेपी सत्ता में है तो नहीं।''
वहीं हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने विधानसभा में कहा, ''10 साल ये नारा लगा कि 'हुड्डा तेरे राज में किसान की ज़मीन गई ब्याज़ में'। हमने पिछले 1 साल में 30,000 करोड़ रुपये की अलग-अलग फसलें MSP पर खरीदी हैं। पिछली बार 1800 खरीद केंद्र बनाए थे।''
उन्होंने कहा कि इस बार भी प्रत्येक किसान को विश्वास दिलाते हैं कि जैसे ही मंडी में आपका जे फॉर्म कटेगा, उसके 2 दिन के अंदर आपके खाते में पैसे पहुंच जाएंगे।