दिल्ली के आजादपुर स्थित लाल बाग इलाके में एक घर में आज रसोई गैस सिलेंडर फटने (LPG cylinder blast) से 17 लोग घायल हो गए। जबकि, भयंकर विस्फोट के कारण 5 घर भी क्षतिग्रस्त हो गए। अभी तक किसी की मौत की सूचना नहीं है। आग की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचीं दमकल की चार गाड़ियों ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया।

दिल्ली फायर सर्विस (Delhi fire service) के डायरेक्टर अतुल गर्ग के अनुसार कॉल के अनुसार, हमने दमकल की तीन गाड़ियां मौके पर भेजीं और पाया कि 25 गज में बनी एक झुग्गी में एलपीजी सिलेंडर में विस्फोट हुआ था, जिसके कारण शुरू में हमें बताया गया कि पांच लोग झुलस गए थे।

डीसीपी (उत्तर-पश्चिम) उषा रंगनानी ने कहा कि आदर्श नगर थाने में सुबह करीब 10.08 बजे एक पीसीआर कॉल आई थी, जिसमें आजादपुर की लालबाग मस्जिदके  पास एक घर में सिलेंडर फटने से आग (fire from cylinder blast) लगने की घटना हुई थी, जिसमें पांच लोग घायल हो गए थे। हालांकि, मौके पर पहुंचने पर पता चला कि 17 लोग आग में झुलस गए थे और उन्हें अस्पताल ले जाया गया।

इनमें से 16 लोगों को मामूली चोटें आईं और उन्हें बाबू जगजीवन राम अस्पताल ले जाया गया, जबकि एक व्यक्ति को आरएमएल अस्पताल में भर्ती कराया गया। पुलिस ने बताया कि इस घटना में किसी के मारे जाने की खबर नहीं है।
प्रारंभिक जांच में पता चला कि पप्पू कुमार नामक व्यक्ति एक इमारत की तीसरी मंजिल पर अपने घर में गैस सिलेंडर बदल रहा था और इसी दौरान उसका एलपीजी सिलेंडर फट गया और उसके घर की छत और दीवारें गिर गईं। अधिकारी ने बताया कि इसके प्रभाव से दूसरी मंजिल पर स्थित चार अन्य घर भी ढह गए।

उन्होंने कहा कि आग पर काबू पा लिया गया है और कूलिंग का काम चल रहा है। पुलिस ने कहा कि घटना की आगे की जांच जारी है और इसके अनुसार ही कानूनी कार्रवाई की जा रही है।