चुनाव प्रचार के दौरान असम के तिनसुकिया में रैली के दौरान अमित शाह ने कहा है कि कांग्रेस को घुसपैठियों में वोटबैंक नजर आता है। तिनसुकिया के मार्गेरिटा में शाह ने एक जनसभा को संबोधित करने के दौरान कांग्रेस और विपक्षी पार्टियों पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि बीजेपी वोट बैंक की राजनीति नहीं करती है, जबकि उन्होंने कहा कि कांग्रेस को घुसपैठियों में वोटबैंक नजर आता है।

गृहमंत्री ने कहा कि असम में बीजेपी की सरकार आने के बाद ना आंदोलन हो रहे हैं। ना यहां आंतकवाद है। यहां शांति है और सिर्फ विकास ही विकास हो रह है। उन्होंने कहा कि हम जीत के लिए सिद्धांत से समझौता नहीं करते हैं। हमने असम को घुसपैठ मुक्त किया है। उन्होंने कहा कि हमने असम को बाढ़ मुक्त बनाने का फैसला किया है।

मार्गेरिटा में रैली के बाद अमित शाह नाजिरा विधानसभा में बीजेपी की चुनावी जनसभा को संबोधित करेंगे। असम में दो चुनावी रैली करने के बाद अमित शाह बंगाल के खड़गपुर में जनसभा को संबोधित करेंगे। खड़गपुर में उनका कार्यक्रम शाम सवा 5 बजे हैं।

आज 2 चुनावी रैली करने के 2 दिन बाद गृह मंत्री अमित शाह एक बार फिर असम का दौरा करेंगे। शाह 17 मार्च को माजुली और सदिया में दो चुनावी रैलियों को संबोधित करेंगे। शाह माजुली सीट पर मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल के लिए प्रचार करेंगे तो सदिया से बोलिन चेतिया के लिए प्रचार करेंगे।

सिर्फ अमित शाह ही नहीं बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा केंद्रीय गृह मंत्री के दौरे के अगले दिन सोमवार को असम में 3 चुनावी रैलियों को संबोधित करेंगे। नड्डा पार्टी उम्मीदवारों नबा कुमार डौली, पद्मा हजारिका और गणेश कुमार लिम्बु के प्रचार के लिए क्रमश: धाकुखाना, सौतिया और बारचाला विधानसभा क्षेत्रों का दौरा करेंगे।

शाह और नड्डा के अलावा, बीजेपी के एक अन्य शीर्ष नेता और मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सोमवार को असम के नाहरकटिया, दुलियाजान और डिब्रूगढ़ विधानसभा क्षेत्रों में पार्टी के उम्मीदवारों के प्रचार के लिए जाएंगे। ये उम्मीदवार क्रमशः तरंग गोगोई, तेरश गोवाला और प्रसांत फूकन हैं।

असम में 126 सदस्यीय विधानसभा सीट के लिए 27 मार्च से 6 अप्रैल के बीच तीन चरणों में मतदान होगा। मतों की गिनती 2 मई को होगी।