बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश द्विवेदी ने एक अहम फैसला लिया है। 69000 शिक्षक भर्ती में बचे हुए 4000 पद भरे जाएंगे। एससी के बचे हुए 1100 पद भी भरे जाएंगे। उन्होंने कहा कि हमारे पास अभी पात्र अभ्यर्थी हैं। हमारी मेरिट लिस्ट तैयार है। 69000 भर्ती के समय हमने 69 हजार अभ्यर्थियों की सूची जारी की थी। उसी सूची से हम भर्ती करेंगे।

सतीश द्विवेदी ने कहा कि 1.25 लाख भर्ती हमारे विभाग ने की है। हम न्याय विभाग के परामर्श का इंतजार कर रहे हैं। हमारे यहां विद्यार्थी और शिक्षक अनुपात बढ़िया है। 20 मई 2020 के बाद का जाति और निवास प्रमाण पत्र तो चयन निरस्त होगा। आपको बता दें कि 69 हजार शिक्षक भर्ती में 20 मई 2020 के बाद जारी जाति और निवास प्रमाण पत्र का उपयोग करने वाले अभ्यर्थियों का चयन निरस्त किया जाएगा। इस संबंध में बेसिक शिक्षा विभाग की अपर मुख्य सचिव रेणुका कुमार ने आदेश जारी कर दिया है।

इस भर्ती में लगभग 1000 ऐसे अभ्यर्थी थे, जिनका चयन सूची में नाम था लेकिन उनके आवेदन पत्र या मूल प्रमाण पत्रों में विसंगतियां थीं। ऐसे अभ्यर्थियों पर न्याय और कार्मिक विभाग की राय के बाद अलग से निर्णय लिया गया है। इस संबंध में स्पष्टीकरण जारी किया गया है। यह भर्ती 2019 से चल रही है और इसमें चयन सूची जून 2020 में जारी की गई थीं। इसमें कई ऐसे अभ्यर्थी थे जिन्होंने 20 मई के बाद का जाति और निवास प्रमाण पत्र लगाया था। 20 मई के बाद का प्रमाणपत्र लगाने वाले अभ्यर्थी अब चयन सूची से बाहर होंगे।