कोरोना संक्रमण के चलते लगाए गए अनलॉक में बेरोजगारों को घर बैठे नौकरी मिलेगी। उन्हें इंटरव्यू के लिए बाहर नहीं जाना पड़ेगा। सेवायोजन कार्यालय उनके लिए ई-रोजगार मेले का आयोजन करने जा रहा है। इसमें ऑनलाइन इंटरव्यू के जरिए बेरोजगारों का चयन किया जाएगा। कुल तीन कंपनियां इसके लिए तैयार हो चुकी हैं। शासन से ई-रोजगार मेले के आयोजन के लिए परमिशन मांगी गई है जो जल्द ही मिल जाएगी।

सेवायोजन कार्यालय में रजिस्ट्रेशन तो पहले से पहले से ही ऑनलाइन हो चुका है। अब कोरोना संक्रमण के दौर में रोजगार मेले का आयोजन भी खतरे से खाली नहीं है। अगर एक जगह सैकड़ों की संख्या में बेरोजगार एकत्र हुए तो संक्रमण के चांसेज बढ़ जाएंगे। ऐसे में विभाग ने ई-रोजगार मेले के आयोजन का फैसला किया है। इसकी तैयारी लगभग पूरी कर ली गई है। इसमें घर बैठे बेरोजगार ऑनलाइन इंटरव्यू के जरिए नौकरी पा सकेंगे। यह सभी प्र्िरक्रया सेवायोजन कार्यालय के पोर्टल पर पूरी कराई जाएगी।


ई-रोजगार मेले के आयोजन का ट्रायल वैसे तो कर लिया गया है। मिर्जापुर में सेवायोजन कार्यालय की ओर से आयोजित ई-मेले में 34 लोगों का सेलेक्शन किया गया है। इस मेले में निर्माण क्षेत्र की कंपनी एलएनटी ने भागीदारी कर ऑनलाइन इंटरव्यू किया था। इसमें शामिल बेरोजगारों का पूरा प्रॉसेस ऑनलाइन ही कराया गया था। यहीं से कंपनी ने उनकी स्किल को भी परखा था। इस सफल आयोजन के बाद सेवायोजन कार्यालय ने ई रोजगार मेला की पूरी स्क्रिप्ट तैयार कर ली है।


बेरोजगार युवाओं के लिए यह साल अच्छा नहीं गया। मार्च के बाद से एक भी रोजगार मेले का आयोजन नहीं किया जा सका है। लॉकडाउन के बाद तो जैसे बेरोजगारों की किस्मत ही रूठ गई। जो रोजगार मेले होने थे सभी कैंसिल हो गए। बंदी का दंश झेल रही कंपनियां भी रोजगार देने के वादे से मुकर गई। ऐसे में सेवायोजन कार्यालय ने एक बार फिर बेरोजागरों को नौकरी दिलाने की कवायद शुरू की है। इसके लिए ई-रोजगार मेले को बेहतर विकल्प कहा जा सकता है।


31152 बेरोजगार रजिस्टर्ड हुए थे लास्ट फाइनेंशियल ईयर में

167263 है मौजूदा समय में कुल बेरोजगार

17 कुल रोजगार मेलों का हुआ था पिछले फाइनेंशियल ईयर में आयोजन

3212 लोगों को मिला इस दौरान रिक्रूटमेंट

26 कुल कंपनियों ने दी थी दस्तक

ई-रोजगार मेले में आने को तैयार कंपनियां