सुपरहिट फिल्म आशिकी से चर्चाओं में आए राहुल राय की कंपनी ने मप्र के कई जिलों के सोयाबीन व्यापारियों का करोड़ों का भुगतान फंसाने का मामला सामने आया है। व्यापारियों को भुगतान के लिए दिए चेक डिसऑनर हो गए हैं। उन्होंने अदालत की शरण ली है। किसानों ने कंपनी, राहुल राय और पार्टनर्स के खिलाफ चेक बाउंस का केस लगाया है।

इधर, राहुल के भाई और पार्टनर रोहित राय ने व्यापारियों को एक लेटर भेजकर मामले को सुलझाने और फिर से व्यापार शुरू करने की बात कही है। पत्र में पिल्लई पर कंपनी से धोखाधड़ी करने की बात लिखी है। वहीं, राहुल रॉय के पार्टनर राजेश पिल्लई का कहना है कि मैं कंपनी में अब नहीं हूं। इस बारे में मैं कुछ नहीं बता सकता। राहुल राय से जानकारी ले सकते हैं।

इंदौर में स्नेह नगर सपना संगीता रोड पर सफायर हाउस में कंपनी का ऑॅफिस है। इसके अलावा नोएडा और मुंबई में भी ऑफिस है। कंपनी में राहुल राय के अलावा उनके भाई रोहित राय, रोहित की पत्नी टटानिया जुवेवा, राजेश पिल्लई पार्टनर हैं। उज्जैन के व्यापारी राजेश हरभजनका ने नानाखेड़ा थाने में आवेदन भी दिया है। पुलिस ने राहुल के पार्टनर राजेश पिल्लई से थाने में दो घंटे तक पूछताछ भी की है।

व्यापारी हरभजनका ने बताया कुछ समय तक तो कंपनी ने लेनदेन ठीक किया। पांच और 12 अप्रैल को दो गाड़ी माल का भुगतान (18.10 लाख) रोक दिया। जब काफी समय तक पेमेंट नहीं आया तो राहुल से बात की। जिसके एवज में 31 अक्टूबर को 9.60 लाख और 8.50 लाख का दो चेक दिया। चेक को बैंक खाते में लगाया तो बाउंस हो गए।