सूर्य ग्रहण (Solar Eclipse) इस साल का आखिरी ग्रहण होगा। यह ग्रहण 4 दिसंबर शनिवार को लगने जा रहा है। ग्रहण शनि अमावस्या के दिन लग रहा है जिससे की बहुत ही खास योग बन रहा है। बता दें कि सूर्य ग्रहण (Surya Grahan) तब लगता है जब चंद्रमा, सूर्य और पृथ्वी के बीच से गुजरता है और सूर्य व पृथ्वी के बीच में चंद्रमा आ जाता है तो चंद्रमा के पीछे सूर्य कुछ समय के लिए ढंक जाता है।
बता दें कि सूर्य ग्रहण (Surya Grahan) के दौरान शुभ व मांगलिक कार्यों की मनाही होती है। इस दौरान मंदिर के कपाट भी बंद कर दिए जाते हैं-
सूतक काल (Sutak period)-

सूर्य ग्रहण शुरू होने से 12 घंटे पहले ही सूतक काल प्रारंभ हो जाता है। 4 दिसंबर को लगने वाला सूर्य ग्रहण भारत में नहीं दिखाई देगा। जिसके कारण भारत में सूतक काल मान्य नहीं होगा।
यहां नजर आएगा सूर्य ग्रहण -

साल का आखिरी सूर्य ग्रहण दक्षिण अमेरिका, अंटार्कटिका, ऑस्ट्रेलिया, अटलांटिक के दक्षिणी भाग और दक्षिण अफ्रीका में दिखाई देगा।
समय-

सूर्य ग्रहण 04 दिसंबर को सुबह 11 बजे से आरंभ होकर दोपहर 03 बजकर 07 मिनट पर समाप्त होगा।