कल देवउठनी एकादशी (Devuthani Ekadashi) है। इसन दिन देव अपनी 4 महीनों की निंद्रा से उठ जाएंगे। आज कार्तिक (Karthik) शुक्ल पक्ष दशमी, आनन्द संवत्सर विक्रम संवत 2078, शक संवत 1943 (प्लव संवत्सर), कार्तिक। दशमी तिथि 14 नवंबर सुबह 05 बजकर 48 मिनट तक उपरांत एकादशी। नक्षत्र शतभिषा दोपहर 03 बजकर 25 मिनट तक उपरांत पूर्व भाद्रपद।
व्याघात योग 14 नवंबर सुबह 02 बजकर 17 मिनट तक, उसके बाद हर्षण योग। करण तैतिल शाम 05 बजकर 32 मिनट तक, बाद गर, 14 नवंबर सुबह 05 बजकर 48 मिनट तक, बाद वणिज। चन्द्रमा कुंभ राशि पर संचार करेगा।
आज के शुभ मुहूर्त-

    ब्रह्म मुहूर्त- 04:56 ए एम से 05:49 ए एम
    अभिजित मुहूर्त- 11:44 ए एम से 12:27 पी एम
    विजय मुहूर्त- 01:53 पी एम से 02:36 पी एम
    गोधूलि मुहूर्त- 05:18 पी एम से 05:42 पी एम
    अमृत काल- 08:04 ए एम से 09:42 ए एम
    निशिता मुहूर्त- 11:39 पी एम से 12:32 ए एम, नवम्बर 14
    रवि योग- पूरे दिन