आज शनिवार (shanivar) है और आज का दिन न्याय के देवता शनिदेव (Shani dev) को समर्पित होता है। इस दिन शनिदेव की पूजा करने से कई तरह की दुख दर्दों से मुक्ति मिलती है और जीवन से नकारात्मकता दूर होती है। कोई भी बुरा काम उनसे छिपा नहीं इसलिए उनकी पूजा का बहुत महत्त्व है।
ग्रहों की दशा-

शनि को संतुलन और न्याय का ग्रह माना जाता है। इस वजह से उन्हें कर्मफलदाता भी कहा जाता है। हर शनिवार (Saturday) शनि देवता (Shani dev) की विशेष तौर पर पूजा की जाती है। मान्यता है कि अगर पूजा सही तरीके से की जाए तो शनिदेव की असीम कृपा मिलती है और ग्रहों की दशा भी सुधरती है।
कष्ट-

हर शनिवार मंदिर में सरसों के तेल का दीया जलाएं। ध्यान रखें कि यह दीया उनकी मूर्ति के आगे नहीं बल्कि मंदिर में रखी उनकी शिला के सामने रखें। इस दिन पीपल के वृक्ष की पूजा करने से विशेष लाभ मिलता है। माना जाता है कि हर शनिवार पीपल के वृक्ष के नीचे सरसों के तेल का दीपक जलाने से शनिदेव प्रसन्न होते हैं। ऐसा करने से आपके कष्ट कम हो जाते हैं और आपको धन-धान्य की प्राप्ति होती है।

स्वच्छ रहने की आदत डालें-

प्रतिदिन स्नान कर खुद को साफ रखने वालों पर शनि की कृपा होती है। पवित्र रहने वालों की शनि हमेशा मदद करते हैं। नाखून काटते रहें, जो लोग अपने नाखून काटते हैं और उन्हें साफ भी रखते हैं, शनि ऐसा करने वालों का हमेशा खयाल रखते हैं। इसलिए अचानक अगर आप अपने नाखून काटने में आलस करने लगें या आपके नाखून गंदे रहने लगे तो समझें कि आपको शनि (Shani dev) दशा सुधारने के लिए उपाय करने चाहिए।
दान करते रहें-

अगर आपका दिल गरीबों, जरूरतमंदों को देखकर पसीज जाता है और हर तीज-त्योहार पर गरीब जरूरतमंद की आप मदद करते हैं तो समझें शनिदेव की आप पर विशेष कृपा है। अगर आप गरीबों को काले चने, काले तिल, उड़द दाल और कपड़े, छाता, जूता सच्चे मन से दान करते हैं, तो आश्वस्त रहिए कि शनिदेव आपका हमेशा कल्याण ही करेंगे।
कुत्तों की सेवा-

कुत्तों की सेवा करने वालों से भगवान शनि हमेशा प्रसन्न होते हैं। कुत्तों को खाना देने वालों और उनको कभी ना सताने वालों के शनिदेव (Shani dev) सभी कष्ट दूर करते हैं। इसलिए अगर आप भी कुत्तों को प्यार करते हैं तो जीवन में शनि कोप से सदा बचे रहेंगे।

सफाई-कर्मियों का सम्मान करें-

जो सफाई-कर्मियों का सम्मान करते हैं और उनकी आर्थिक मदद भी करते हैं, शनिदेव उनका साथ कभी नहीं छोड़ते। यह आदत कभी न बदलें, भाग्यशाली बनने की राह यही आदत खोलेगी। शनिदेव इस आदत से अत्यंत प्रसन्न रहते हैं।
शनिवार का उपवास-

शनिवार (Saturday) का उपवास रखकर अपने हिस्से का भोजन गरीबों को देने की आदत है तो समझें शनि की कृपा से अन्न के भंडार आपके लिए हमेशा खुले रहेंगे। ऐसे व्यक्ति अगर जीवन भर इस नियम का पालन करते हैं तो उन्हें कभी धन-संपदा की कमी नहीं होती।
(यह आलेख सिर्फ जनरुचि के लिए हैं, यह आलेख इन सब का दावा नहीं करता है। यह लौकिक मान्यता आधारित है।)