आज भाई बहन (Bhaiya Dooj) का त्योहार हैं। बहन अपने भाई की निरोगी काया और सफलता के लिए कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की द्वितिया तिथि पर भाई दूज (Bhaiya Dooj) के पावन पर्व पर तिलक (Tilak) करती है। बहने भाईयों का तिलक करती हैं और फिर आरती उतारती हैं। आइए जानते हैं आज का सबसे शुभ मुहूर्त और पूजा-विधि....
सबसे शुभ और उत्तम मुहूर्त (shubh muhoort)-

भाई दूज का त्योहार इस साल 6 नवंबर 2021, दिन शनिवार को है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, इस दिन भाई को तिलक करने का शुभ मुहूर्त दोपहर 1 बजकर 10 मिनट से दोपहर 3 बजकर 21 मिनट तक है। शुभ मुहूर्त की कुल अवधि 2 घंटे 11 मिनट की है।

तिलक (Tilak) पूजा विधि-

    इस दिन भाई को घर बुलाकर तिलक लगाकर भोजन कराने की परंपरा है।
    भाई के लिए पिसे हुए चावल से चौक बनाएं।
    भाई के हाथों पर चावल का घोल लगाएं।
    भाई को तिलक लगाएं।
    तिलक लगाने के बाद भाई की आरती उतारें।
    भाई के हाथ में कलावा बांधें।
    भाई को मिठाई खिलाएं।
    मिठाई खिलाने के बाद भाई को भोजन कराएं।
    भाई को बहन को कुछ न कुछ उपहार में जरूर देना चाहिए।