हस्तरेखा विज्ञान में कई तरह की बाते बताई गई है।  हाथ में कई तरह की रेखाएं पाए जाती है। इन रेखाओं से व्यक्तित्व के बारे में जानकारी मिलती है। इसी तरह से क्रॉस के निशान को लेकर बहुत व्यापक चर्चाएं  है। ज्योतिष के मुताबिक हाथ में क्रॉस का निशान किसी भी पर्वत और किसी भी रेखा पर हो सकता है। इसका व्यक्ति के जीवन में व्यापक असर पड़ता है। कभी सही असर पड़ता है तो सुख समृद्धि होती और गलत असर पर कई परेशानियां होती है।

ज्योतिष ने बताया है कि हाथ में पर्वत और रेखा पर क्रॉस के निशान के अलग-अलग फल होते हैं। हस्तरेखा विज्ञान के अनुसार यदि व्यक्ति के हाथ में गुरु पर्वत पर क्रॉस का निशान होता है तो वह समस्त प्रकार का सुख मिलता है। ऐसे व्यक्ति को पढ़ा-लिखा और धनी कुल से जीवनसाथी मिलता है। ऐसे लोगों का वैवाहिक जीवन सुखमय होता है। हस्तरेखा विज्ञान में क्रॉस के निशान को केवल गुरु पर्वत पर ही शुभ माना हाता है।


हाथ में किसी और जगह पर क्रॉस का निशान शुभ नहीं माना जाता है। यदि क्रॉस का निशान शनि पर्वत पर होता है तो व्यक्ति को विवाद या झगड़े की आशंका रहती है। ऐसे व्यक्ति की अकाल मृत्यु तक हो सकती है। यदि क्रॉस का निशान सूर्य पर्वत पर बने तो व्यक्ति को जीवन में बदनामी उठानी पड़ती है। इसी तरह से बुध पर्वत पर क्रॉस का निशान होता है वह धोखेबाज और झूठे प्रवृत्ति के होते हैं।