कल 14 जुलाई 2022 से सावन का महीना शुरू होने वाला है। शिव भक्तों के लिए यह महीना बहुत ही खास होता है। इस महीने में शिव भक्त शिव जी की खास अराधना करते हैं और भगवान शिव को प्रसन्न करते हैं। भगवान शिव के इस प्रिय महीने में विधि-विधान से पूजा की जाती है।

शिव जी की पूजा के कुछ नियम भी बताए गए हैं, जिनका जरूर पालन करना चाहिए। सावन महीने के जरूरी नियम-


- सावन महीने के सभी सोमवार के दिन व्रत जरूर रखें। इस दिन शिव जी का अभिषेक भी करें। इस दौरान ओम नम: शिवाय मंत्र का जाप करें। सोमवार व्रत की कथा सुनें।
- सावन सोमवार के दिन कम से कम 108 बार महामृत्युंजय मंत्र का जाप जरूर करें।
- शिवलिंग पर बेलपत्र, दूध, दही, घी, शहद, गंगाजल आदि पंचामृत से चढ़ाएं।

यह भी पढ़ें-  त्रिपुरा भाजपा बदमाशों का फैला आतंक, कांग्रेस के वाहनों पर हमला, बाल-बाल बचे आशीष साहा और ज़ारिता लाइफांग


- संभव हो तो इस महीने रुद्राक्ष धारण करें।

- सावन महीने में नॉनवेज-शराब का सेवन गलती से भी न करें। ऐसा करना शिव जी को नाराज कर देगा।

- सावन महीने में किसी से झगड़ा-विवाद भी न करें, ना किसी का अपमान करें।

- यदि सावन सोमवार व्रत रखना शुरू कर दिया है तो उन्‍हें बीच में न तोड़ें। भले ही एक बार फलाहार करके व्रत करें लेकिन करें।

- सावन महीने में लहसुन-प्याज, मूली, बैगन और अदरक न खाएं।