चांदी एक धातु है। दुनिया में लोग इसके आभूषण बनाकर पहनते हैं। मान्यताओं के मुताबिक चांदी एक धातु है लेकिन यग घर में बहुत ही शुभ होती है। इस धातु से बनी वस्तुएं शुभ फल ही देती है। मोर की बात करते हैं तो मोर भगवान कार्तिकेय का वाहन है। मां सरस्वती,भगवान श्रीकृष्ण, कार्तिकेय और श्री गणेश जी की तस्वीर में यह शुभ पंछी देखा जा सकता है।


ज्योतिष और शास्त्रों के मुताबिक घर में चांदी का मोर रखने से कई तरह के लाभ बताए गए हैं। बताया गया है कि नाचता हुआ चांदी का मोर घर में चल रहे धन संकट को दूर करता है।  चांदी के मोर का जोड़ा वैवाहिक जीवन में प्रेम और शांति लेकर आता है। चांदी की सिंदूर डिबिया में चांदी का ही मोर बना हो तो यह अखंड सौभाग्य का प्रतीक होता है।


बता दें कि घर की बैठक में चांदी का मोर सफलता का संदेश लाता है। पूजा घर में शांत बैठा हुआ चांदी का मोर रखने से पूजा का पुण्य फल दोगुना हो जाता है। अविवाहित लोगों के कमरे में चांदी का मोर रखने से उनके मन में प्रेम और विवाह के प्रति रुझान बढ़ जाता है। भाग्य/किस्मत/लक में वृद्धि और चमक चाहते हैं तो किसी भी पूर्णिमा के दिन चांदी का मोर लेकर आएं और उसे तिजोरी में रखें।