कार्तिक का महीना चल रहा है। यह शुक्ल पक्ष की षष्ठी यानी छठी तिथि (Chhath Puja 2021) से छठ पूजा की शुरुआत हो जाती है। जैसे कि हम जानते हैं किपूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार और झारखंड में छठ का महापर्व बड़े ही धूम- धाम से मनाया जाता है और यह पर्व 4 दिनों तक मनाया जाता है। छठ (Chhath) के दौरान महिलाएं लगभग 36 घंटे का व्रत रखती हैं।

छठ के दौरान छठी मईया और सूर्यदेव की पूजा- अर्चना की जाती है। छठी मईया (Chhath Puja) सूर्य देव की मानस बहन हैं। छठ पूजा का पावन पर्व दिवाली के 6 दिन बाद मनाया जाता है। इस साल 8 नवंबर से छठ पूजा की शुरुआत होगी।
पूजा विधि-

छठ (Chhath Puja) का महापर्व 4 दिनों तक मनाया जाता है। नहाय- खाय से छठ पूजा की शुरुआत होती है। बहुमुखी प्रतिभा के धनी होते हैं ये राशि वाले, हर काम में होते हैं परफेक्ट

नहाय- खाय

    8 नवंबर 2021 को नहाय- खाय किया जाएगा। नहाय खाय के दिन पूरे घर की साफ- सफाई की जाती है और स्नान करने के बाद व्रत का संकल्प लिया जाता है। इस दिन चना दाल, कद्दू की सब्जी और चावल का प्रसाद ग्रहण किया जाता है। अगले दिन खरना से व्रत की शुरुआत होती है।