12 फरवरी से माघ मास की गुप्त नवरात्रि प्रारंभ हो रही है। अगर आप किसी तरह की तंत्र विद्या में न जाकर सामान्य पूजा से मनोवांछित फल पाना चाहते हैं तो यह जानकारी आपके लिए ही है। यहां पढ़ें गुप्त नवरात्रि में किस सामग्री से करें देवी का पूजन। 

 गुप्त नवरात्रि के यह नौ दिन मां दुर्गा की पूजा-उपासना के दिन होते हैं। अनेक श्रद्धालु इन नौ दिनों में अपने घरों में घट-स्थापना कर अखंड ज्योति की स्थापना कर नौ दिनों का उपवास रखते हैं।  नवरात्रि में घट-स्थापन एवं अखंड ज्योति प्रज्जवलन का शुभ मुहूर्त कब है-

अभिजीत मुहूर्त-

- अपरान्ह 12:11 (AM) से 12:56 (PM) बजे तक

दिवस मुहूर्त-

- प्रात: 8:00 (AM) से 11:00 (AM) बजे तक

- प्रात: 12:33 (PM) से 2:00 (PM) बजे तक

रात्रिकालीन मुहूर्त-

-रात्रि 9:30 (PM) से 11:00 (AM) बजे तक

गुप्त नवरात्रि से पहले एकत्र करें लें यह 17 पूजन सामग्री :-

मां दुर्गा की प्रतिमा अथवा चित्र, लाल चुनरी, आम की पत्तियां, चावल, दुर्गा सप्तशती की किताब, लाल कलावा, गंगा जल, चंदन, नारियल, कपूर, जौ के बीच, मिट्टी का बर्तन, गुलाल, सुपारी, पान के पत्ते, लौंग, इलायची