आज शनिवार है और आज का दिन भगवान शनिदेव को अर्पित होता है। आज के दिन शनि देव की खास पूजा की जाती है। जैसे की हम जानते हैं कि शनिदेव को क्रूर ग्रह कहा जाता है। शनिदेव के अशुभ प्रभावों से व्यक्ति का जीवन बुरी तरह प्रभावित हो जाता है। ज्योतिष मान्यताओं के अनुसार शनि का अशुभ प्रभाव हर व्यक्ति पर कभी न कभी जरूर पड़ता है।

इस समय धनु, मकर, कुंभ राशि पर शनि की साढ़ेसाती और तुला, मिथुन राशि पर शनि की ढैय्या चल रही है। इन राशियों के जातकों को इस समय विशेष सावधान रहने की आवश्यकता है। रोजाना शनिदेव की पूजा- अर्चना करने से शनि देव के अशुभ प्रभावों से बचा जा सकता है। शनि देव को प्रसन्न करने का सबसे आसान उपाय है रोजाना दशरथ कृत शनि स्तोत्र का पाठ।


रोजाना दशरथ कृत शनि स्तोत्र का पाठ करने से शनिदेव प्रसन्न होते हैं। धार्मिक कथाओं के अनुसार राजा दशरथ ने शनि देव को प्रसन्न करने के लिए इस स्तोत्र की रचना की थी। इस स्तोत्र का पाठ करने से राजा दशरथ से भगवान शनिदेव प्रसन्न हुए थे।