आज सोमवती अमावस्या के दिन महाकुंभ मेले का दूसरा शाही स्नान हैं। कोरोना की तेज रफ्तार के बीच लाखों श्रद्धालु देश-विदेशों से शाही स्नान के लिए पहुंच रहे हैं। कोरोना काल में लाखों श्रद्धालु भीड़ को नियंत्रित करने के लिए हजारों सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया है। सोमवार को शाही स्नान करने के लिए गंगा घाट पर भक्तों की भारी भीड़ उमड़ गई है। पौड़ी पर लोग गंगा नदी में पवित्र स्नान करने के लिए आ रहे हैं।

यहां कोरोना गाइडलाइन्स की धज्जियां उड़याई जा रही हैं। देश में कोरोना लगातार फैलता जा रहा है, इसी को लेकर कुंभ मेला के आईजी संजय गुंजयाल ने कहा कि आम जनता को गंगा में स्नान करने के लिए सुबह 7 बजे तक अनुमति दी गई है। उसके बाद यह क्षेत्र अखाड़ों के लिए आरक्षित कर दिया जाएगा। संजय गुंजयाल ने बताया कि अगर हम घाटों पर सामाजिक दूरियों को लागू करने की कोशिश करेंगे तो भगदड़ जैसी स्थिति उत्पन्न हो सकती है।

घाट पर भीड़ बनी रही तो हम यहां सामाजिक दूरियों को लागू करने में असमर्थ हैं। हम लोगों से लगातार COVID के उचित व्यवहार का पालन करने की अपील कर रहे हैं लेकिन फिर भी लोग कोरोना प्रोटोकॉल का पालन नहीं कर रहे हैं। भारी भीड़ के कारण चालान जारी करना व्यावहारिक रूप से संभव नहीं है।