फुलेरा दूज का संबन्ध भगवान श्रीकृष्ण से है। और श्री कृष्ण लीला के बारे में कौन नहीं जानता है। इनकी राधा से महोब्बत आज पूरी दुनिया में पूजी जाती है। इस बार Phulera Dooj 4 मार्च 2022 को शुक्रवार के दिन है। इस दिन खास तौर से ब्रज में फुलेरा दूज के दिन Radha-Krishna का फूलों से शृंगार किया जाता है और उनकी विशेष पूजा अर्चना की जाती है। बताया जाता है कि इस दिन राधारानी और श्रीकृष्ण की सच्चे दिल से पूजा और अर्चना करने से भक्तों की हर मनचाही मुराद पूरी होती है।
प्रेम विवाह की इच्छा पूर्ति के लिए

अगर आप किसी से बहुत प्रेम करते हैं और उससे विवाह करना चाहते हैं, लेकिन आपकी बात बन नहीं पा रही है तो फुलेरा दूज के दिन राधा कृष्ण मंदिर में जाकर पीले वस्त्र, पीली मिठाई और पीले फूल अर्पित करें और उनसे अपने ​प्रेम विवाह में आ रही अड़चनों को दूर करने की प्रार्थना करें। ऐसा करने से जल्द ही आपके प्रेम विवाह में आ रही सभी बाधा दूर होगी।
दांपत्य जीवन सुखमय के लिए

अगर आपके दांपत्य जीवन में काफी परेशानियां आ रही हैं, जीवनसाथी के साथ संबन्ध खराब हो रहे हैं तो एक कागज पर अपनी इस समस्या को लिखें और फुलेरा दूज के दिन इसे राधा और कृष्ण के चरणों में अर्पित कर दें। उनसे अपने दांपत्य जीवन की समस्या को समाप्त करने की प्रार्थना करें। आपकी मुराद जरूर पूरी होगी।

अपने प्रेम को प्राप्त करने के लिए

अगर आप किसी से बेइंतहा प्रेम करते हैं, लेकिन उससे अपने मन की बात कह नहीं पाएं हैं या उसका भी प्रेम पाना चाहते हैं तो फुलेरा दूज के दिन श्री कृष्ण मंदिर में जाकर भोजपत्र पर चंदन से अपने प्रेमी का नाम लिखें और उसे राधारानी और श्रीकृष्ण के चरणों में अर्पित करके प्रार्थना करें। आपको आपका प्रेम जरूर मिलेगा।
(यह आलेख सिर्फ जनरुचि के लिए हैं, यह आलेख इन सब का दावा नहीं करता है। यह लौकिक मान्यता आधारित है।)