माघ मास के गुप्त नवरात्रि 12 फरवरी से यानी की कल से शुरू हो रहे हैं। इन नवरात्रि में तंत्र और मंत्र की साधना की जाती है और साथ ही मनोकामना पूर्ति के लिए गुप्त नवरात्र में मां दुर्गा की पूजा की जाती है। खास बात यह है कि इन नौ दिनों में मां दु्गा की नौ शक्तियों की  पूजा की जाती है। दुर्गा मां की दसमहाविद्यायों की भी पूजा होती है। जानकारी के लिए बता दें कि इस बार गुप्त नवरात्री 10 दिन चलेंगे।


12 से शुरू हो कर 21 फरवरी तक गुप्त नवरात्रि खत्म हो जाएंगे। ज्योतिषियों के मुताबिक इस बार नवरात्रि पर बहुत ही शुभ संयोग बन रहे हैं। इन दिनों सर्वार्थसिद्धियो, त्रिुपष्कर अमृतसिद्धि और राजयोग रहेंगे। इन दस दिनों में एक तरफ मां की पूजा अर्चना विशेष फलदायी रहेगी, वहीं दूसरी ओर शुभ योगों से मंगलकार्य शुरू होंगे।


नवरात्रि के 10 दिनों में भवन, वाहन आदि की खरीददारी बहुत ही शुभ है। गुप्त नवरात्रि पर पूजा प्रतिपदा के दिन कलश स्थापना सुबह 08 बजकर 34 मिनट से 09 बजकर 59 मिनट तक होगी। इसी के साथ अभिजीत मुहूर्त दोपहर 12 बजकर 13 मिनट से 12 बजकर 58 मिनट तक रहेगा।