हरिद्वार। हिन्दू नव संवत्सर और नवरात्री पर्व शनिवार से शुरू हो गया। तीर्थ नगरी हरिद्वार के प्रसिद्ध देवी मंदिरों में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ी और भक्तों ने देवी के दर्शन किए। हरिद्वार के प्रसिद्ध मनसा देवी मंदिर चंडी देवी मंदिर महामाया देवी मंदिर में सुबह से ही श्रद्धालुओं की कतारें लगनी शुरू हो गई थी। 

यह भी पढ़ें- श्रेयस अय्यर ने वानखेड़े स्टेडियम की पिच के लिए बोल दी ऐसी बात , KKR प्वाइंट्स टेबल में टॉप पर

माता के जयकारे लगाते हुए श्रद्धालु शिवालिक पर्वत माला पर स्थित मां चंडी देवी मां मनसा देवी के दर्शनों के लिए पैदल पहुंचे पहुंचे जहां मंदिरों में प्रसाद चढ़ाया गया और देवी की पूजा-अर्चना भी की गई। मनसा देवी मंदिर के मुख्य ट्रस्टी हनी शर्मा ने कहा कि कोरोना प्रतिबंद हटने के कारण यहां पर भारी संख्या में श्रद्धालु पहुंच रहे हैं और यहां की व्यवस्था से काफी खुश हैं। 

उन्होंने बताया कि मां मनसा देवी के दर्शन करने और यहां पर मन्नत का धागा बांधने से सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं। वहीं गुजरात से माता के दर्शनों के लिए पहुंचे श्रद्धालु अर्चिता का कहना है कि मां मनसा देवी का काफी महत्व है इसको देखते हुए भी गुजरात से मां मनसा देवी के दर्शन करने आई है यहां पर मां के दर्शनों के बाद काफी प्रसन्न हैं। 

यह भी पढ़ें- केंद्र ने पांच राज्यों के लिए खोला खजाना, अतिरिक्त सहायता की मंजूरी

एक अन्य श्रद्धालु महिला नवनिधि भाटिया कहना है माता सब पर प्रसन्न होती हैं और भक्तों को स्वयं बुलावा भेजती है जिससे भक्त दौड़े चले आते हैं उन्होंने सभी को हिंदू नववर्ष एवं नवरात्रों की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि मां भगवती सब पर कृपा बनाए रखें। नगर पुलिस अधीक्षक स्वतंत्र प्रकाश ने बताया कि नवरात्रों को देखते हुए सभी देवी मंदिरों में सुरक्षा व्यवस्था के चाक-चौबंद इंतजाम किए गए तथा नागरिकों सुविधा को देखते हुए व्यापक इंतजाम किए गए हैं शहर की ट्रैफिक व्यवस्था को भी सुचारू बनाने के लिए व्यवस्थाएं पुख्ता की गई है।