साल 2021 का पहला चंद्र ग्रहण 26 मई होने वाला है। इस साल 4 ग्रहण होंगे, जिनमें से दो सूर्यग्रहण और दो चंद्र ग्रहण हैं। चंद्र ग्रहण होने के कारण भारत में सूतक काल मान्य नहीं होगा। चंद्र ग्रहण वैशाख पूर्णिमा (बुद्ध पूर्णिमा) के लिए लगेगा। ज्योतिषाचार्यों के अनुसार, यह चंद्र ग्रहण काफी महत्वपूर्ण होगा। भारतीय समयानुसार, यह ग्रहण दोपहर 2 बजकर 17 मिनट से शुरू होकर शाम 07 बजकर 19 मिनट पर समाप्त होगा। यह पूर्वोत्तर की तरफ दिखाइ देगा।

चंद्र ग्रहण कुछ राशियों पर शुभ प्रभाव डालने वाला है। इसमें मेषराशि शामिल हैं। मेष राशि वालों को अचानक धन लाभ हो सकता है। लंबे समय से रूके हुए कार्य पूरे हो सकते हैं। सेहत का ध्यान रखने की जरूरत है। इसी तरह से कर्क पर भी इस ग्रहण का प्रभाव रहेगा। कर्क राशि वाले खासतौर से स्वास्थ्य को लेकर सावधान रहें। व्यापारियों को अच्छे परिणाम प्राप्त हो सकते हैं। व्यापार में मुनाफा हो सकता है।


कन्या राशि वालों को नौकरी में तरक्की मिल सकती है। आर्थिक मजबूत होगा। जल्दबाजी में फैसला लेने से बचें। मकर राशि वालों को आर्थिक लाभ हो सकता है। करियर में सफलता हासिल हो सकती है। नौकरी में बदलाव के योग बनेंगे। नए प्रोजेक्ट से लाभ हो सकता है। बता दे कि साल 2021 का पहला चंद्रग्रहण भारत में उपछाया चंद्र ग्रहण के रूप में देखा जा सकेगा। जबकि पूर्वी, एशिया, ऑस्ट्रेलिया, प्रशांत महासागर और अमेरिका में पूर्ण ग्रहण होगा।