मंगलवार का दिन भगवान हनुमान (Hanuman ji) को समर्पित होता है। जैसे कि हम जानते हैं कि इस व्रत को करने से हनुमान जी की प्रसन्‍न होकर हमारे जीवन के सभी संकटों को दूर करते हैं। इससे बुरी शक्तियां और नेगेटिव एनर्जी (negative energy) से दूर रहते हैं।

मंगलवार और हनुमान का संबंध-

पौराणिक मान्‍यताओं के अनुसार मंगलवार को बजरंगबली (Bajrangbali) का जन्‍म हुआ था। इस वजह से ही उनकी पूजा के लिए यह दिन समर्पित होता है और उनका व्रत करने से जीवन से सभी प्रकार के कष्‍ट और संकट दूर होते हैं। इसी वजह से हनुमान जी (Hanuman ji) को संकटमोचक भी कहा जाता है।

साथ ही यह भी माना जाता है कि मंगल ग्रह का संबंध भी हनुमानजी से होता है तो इस वजह से भी मंगलवार को हनुमानजी की पूजा की जाती है। इस दिन उपवास करने और सुंदरकांड का पाठ करने से मंगल के अशुभ प्रभाव भी दूर होते हैं।
व्रत के नियम-

  •     मंगलवार के व्रत (Tuesday's fast) में सबसे ज्‍यादा ध्‍यान पवित्रता का रखा जाता है।
  •     पूजा के वक्‍त मन को इधर-उधर न भटकने दें। शांत मन से प्रभु का ध्‍यान करें।
  •    मंगलवार के दिन नमक का सेवन न करें। इसके साथ ही अगर किसी मीठी वस्‍तु का दान करते हैं तो उसे स्‍वयं ग्रहण न करें।
  •     मंगलवार के व्रत में भूलकर काले या सफेद वस्‍त्र पहनकर हनुमान जी (Hanuman ji)  की पूजा न करें। इस दिन लाल कपड़े पहनना सबसे अच्‍छा होता है।
  •     व्रत रखने वाले व्‍यक्ति को दिन भर में केवल एक बार भोजन करना चाहिए।