एक रोटी जीवन का सहारा होती है। रोटी भूख ही नहीं जीवन के की काम सुधार देती है। एक रोटी किसी भूखे की भूख को खत्म कर देती है वैसे एक रोटी जीवन के दुख दर्द भी खत्म कर देती है। बस जरूरत है एक उपाय की। इंसान के जीवन में की तरह के दुख होते हैं। कोई भी एक व्यक्ति नहीं है जो किसी भी तरह के दुख दर्द में नहीं है। आपको भी होगा कोई दर्द या दुख तो रोटी के साथ एक उपाय करें।

शनिवार शनि देव को समर्पित होता है और शनि देव न्याय के देवता कहे जाते हैं। इस दिन की शाम को एक रोटी लें और पहले वह रोटी साफ़ बर्तन में अपने सामने रखकर, अपनी इच्छा जो आप चाहते हैं उसके पूरे होने की कामना करें। इसके बाद यह रोटी किसी काले कुत्ते या काली गाय को खिला दें। आपके सारे बिगड़े काम बनने लगेंगे।

दूसरा उपाय है कि आप लाल रेशमी धागा लें और लाल धागा घर के पूजा मंदिर में रखा हो तो सर्वोतम है। जब अपनी लम्बाई के बराबर का धागा काट लें तो उसको धोकर आम के पत्ते लपेट लें। उसके बाद ‘ॐ नमः शिवाय’ का जाप करते हुए, साफ़ नदी के बहते पानी में प्रवाहित कर दें। ऐसा करने से आपकी इच्छाएं पूरी होगी और दुख दर्द तनाव भी कम होगा।