भारत की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने Union Budget 2021 सत्र के दौरान आर्थिक सर्वे पेश किया है जिसके तहत इस साल देश की जीडीपी ग्रोथ 11 फीसदी रहने का अनुमान है। वित्त वर्ष 2021-22 का आम बजट संसद में 1 फरवरी को पेश किया जाएगा।

संसद के बजट सत्र के पहले दिन भारी हंगामे के बीच वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आर्थिक सर्वेक्षण 2020-21 की रिपोर्ट लोक सभा के पटल पर रखी। इस दौरान उन्होंने बताया कि वित्त वर्ष 2021.22 में सकल घरेलू उत्पाद यानी जीडीपी ग्रोथ 11 प्रतिशत रहने का अनुमान है। सर्वे में कहा गया है कि इस वित्त वर्ष 2020-21 में जीडीपी माइनस 7.7 फीसदी होगी।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण आर्थिक सर्वेक्षण की जानकारी दी है। दौरान भारत सरकार के मुख्य आर्थिक सलाहकार केवी सुब्रमण्यम भी मौजूद रहे।

आपको बता दें कि आर्थिक सर्वेक्षण पिछले एक साल की अर्थव्यवस्था की स्थिति पर एक विस्तृत रिपोर्ट होती है जिसमें अर्थव्यवस्था से संबंधित प्रमुख चुनौतियों और उनसे निपटने का जिक्र होता है। आर्थिक मामलों के विभाग के आर्थिक प्रभाग द्वारा मुख्य आर्थिक सलाहकार के मार्गदर्शन में इस दस्तावेज को तैयार किया जाता है।