गुजरात के व्यवसायी संदेसरा बंधुओं द्वारा 14,500 करोड़ रुपये के बैंक ऋण धोखाधड़ी का मामला सामने आया है।  इस मनी लॉन्ड्रिंग मामले में दिवंगत कांग्रेस नेता अहमद पटेल के दामाद, अभिनेता डिनो मोरिया, संजय खान और डीजे अकील की संपत्ति कुर्क की गई है।  यह जानकारी प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा दी गई है। 

प्रवर्तन निदेशालय के सूत्रों ने कहा कि जिन लेनदेन को अपराध की आय माना गया है, उस लेनदेन के समान मूल्य की संपत्ति को अटैच किया गया है।  वित्तीय अपराधों की जांच करने वाले प्रवर्तन निदेशालय के अनुसार इस मनी-लॉन्ड्रिंग मामले की जांच से संदेसरा और इरफान सिद्दीकी, डिनो मोरिया और डीजे अकील के बीच लेनदेन का पता चला है।  जांच में पता चला कि डीजे अकील को संदेसरस से 12.54 करोड़, इरफान सिद्दीकी को 3.51 करोड़ और डिनो मोरिया को 1.4 करोड़ रुपये मिले हैं। 

ईडी ने कहा कि उन लेनदेन को अपराध की आय माना जाता है, जिसमें इरफान सिद्दीकी की 2.41 करोड़ रूपये, डीजे अकील की 1.98 करोड़ रूपये और डिनो मोरिया 1.4 करोड़ रूपये की संपत्ति कुर्क की गई है।  इस मामले में कथित तौर पर 14,500 करोड़ रुपये की बैंक ऋण धोखाधड़ी शामिल है।  इस मामले में आरोपी स्टर्लिंग बायोटेक और इसके मुख्य प्रमोटरों और डायरेक्टरों में से नितिन जयंतीलाल संदेसरा, चेतनकुमार जयंतीलाल संदेसरा और दीप्ति संदेसरा गायब हैं. नितिन और चेतन कुमार भाई हैं और 2017 में अन्य लोगों के साथ देश छोड़कर भाग गए थे।