पोर्न वीडियो केस में बॉम्बे हाई कोर्ट ने बिजनसमैन राज कुंद्रा को अंतरिम राहत दी है। उनकी अग्रिम जमानत याचिका पर सुनवाई 25 अगस्त को होगी। बॉम्बे हाई कोर्ट ने पहले राज कुंद्रा की जमानत याचिका खारिज कर दी थी। राज कुंद्रा को 19 जुलाई को गिरफ्तार किया गया था। सेशन कोर्ट में अग्रिम जमानत याचिका खारिज होने के बाद राज कुंद्रा की तरफ से हाई कोर्ट में अपील की गई थी।

अडल्ट वीडियो केस में नाम आने के बाद राज कुंद्रा को बीती 19 जुलाई को गिरफ्तार किया गया था। पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस ने राज कुंद्रा को जमानत न देने के लिए दलील दी थी कि राज कुंद्रा को अगर जमानत दी जाती है तो वह फिर से अश्लील वीडियो अपलोड करेंगे जिससे हमारे संस्कृति पर असर पड़ेगा और समाज में गलत मेसेज जाएगा। साथ ही कहा था कि वीडियोज की अभी जांच चल रही है और राज बाहर जाकर सबूतों के साथ छेड़छाड़ कर सकते हैं। पुलिस ने कहा था कि राज भारत छोड़कर भाग भी सकते हैं।

पुलिस ने स्टेटमेंट में राज कुंद्रा को पोर्न वीडियो रैकेट का मास्टरमाइंड बताया था। राज की गिरफ्तारी के बाद कई और लोगों को भी अरेस्ट किया जा चुका है। वहीं शर्लिन चोपड़ा से लेकर पूनम पांडे तक राज कुंद्रा पर गंभीर आरोप लगा चुकी हैं। वहीं गिरफ्तारी से बचने के लिए राज पर पुलिस को 25 लाख रुपये घूस देने का आरोप भी लगा था।