साल 2022 आने वाली है। ये साल कुछ लोगों के लिए बहुत ही अच्छी होगी तो कुछ लोगों के लिए बहुत ही बेकार होगी। ज्योतिष के मुताबिक 2022 में शनि का राशि परिवर्तन होने जा रहा है। शनि (Saturn) ढाई साल में एक बार राशि परिवर्तन करते हैं क्योंकि शनि सभी ग्रहों में सबसे धीमी चाल से चलते हैं।  


यह भी पढ़ें- सूर्य ग्रह के गोचर से इन राशिवालों की बदलने वाली है किस्मत, इन लोगों के लिए है वरदान


बता दें कि शनि के राशि परिवर्तन को बेहद महत्वपूर्ण माना जाता है। शनि (Saturn)  के राशि परिवर्तन करने से कुछ राशियों को फायदा होता है तो कुछ राशियों को नुकसान होता है। गणना के मुताबिक शनि 29 अप्रैल, 2022 को मकर राशि से कुंभ राशि में प्रवेश कर जाएंगे। शनि के राशि परिवर्तन से ही कुछ राशियों पर शनि की ढैय्या का प्रभाव शुरू हो जाता है तो कुछ राशियों पर से शनि की ढैय्या का प्रभाव खत्म हो जाता है।
2022 में ये राशिवाले रहे सावधान-

मीन राशि (Pisces)-

    शनि के कुंभ राशि में प्रवेश करने से मीन राशि पर शनि की साढ़ेसाती शुरू हो जाएगी। शनि की साढ़ेसाती के तीन चरण होते हैं। ज्योतिष मान्यताओं के अनुसार शनि की साढ़ेसाती (Sade Sati) का पहला चरण सबसे अधिक खतरनाक होता है। साढ़ेसाती के पहले चरण में व्यक्ति को अपना विशेष ध्यान रखना चाहिए।
वृश्चिक राशि (Scorpio)-

    शनि के कुंभ राशि में प्रवेश करने से वृश्चिक राशि पर शनि की ढैय्या शुरू हो जाएगी। शनि की ढैय्या लगने पर व्यक्ति को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।
कर्क राशि (Crab)-

    शनि के राशि परिवर्तन करने से कर्क राशि पर भी शनि की ढैय्या शुरू हो जाएगी। शनि की ढैय्या लगने पर व्यक्ति को विशेष सावधानी बरतनी चाहिए।