आज छोटी दिवाली (Choti Diwali 2021) का पर्व है और इस पर्व को नरक चतुर्दशी (Narak Chaturdashi) के नाम से भी जाना जाता है। जैसे कि हम जानते हैं कि पौराणिक कथाओं में नरक चतुर्दशी (Narak Chaturdashi) वर्णित दैत्य राजा नरकासुर से संबंधित है। आज के दिन से दिवाली के जश्न की शुरूआत होती है।

देखिए छोटी दिवाली पूजा का शुभ मुहुर्त, पूजा विधि-इस साल छोटी दिवाली (Choti Diwali 2021) का पर्व 3 नवंबर 2021 को मनाया जाएगा जो कि दिवाली से एक दिन पहले होता है। दिवाली इस बार 4 नवंबर को मनाई जाएगी।शुभ मुहूर्त-
छोटी दिवाली (Choti Diwali 2021), 3 नवंबर 2021 को पूजा का शुभ मुहूर्त सुबह 09:02 बजे से अगले दिन सुबह 06:03 बजे तक है। स्नान या अभयंगा स्नान का समय सुबह 5 बजकर 40 मिनट से 6 बजकर तीन मिनट तक रहेगा। मान्यता है कि इस पवित्र स्नान से मनुष्य की आत्मा की शुद्धि होती है और मौत के बाद नरक की यातनाओं से छुटकारा मिलता है।पूजा विधि -
नरक चतुर्दशी के दिन लोग भगवान कृष्ण (Lord Krishna), काली माता, यम और हनुमान जी की पूजा करते हैं।
मानता है कि इससे आत्मा की शुद्धि होती है और पूर्व में किए गए पापों का नाश होता है।
इसके साथ ही नरक में जाने से भी मुक्ति मिलती है।
कुछ स्थानों पर छोटी दिवाली के मौके पर नरकासुर (Narakasura) का पुतला दहन किया जात है।
यह देश के विभिन्न इलाकों में मनाया जाता है।