साल 2021 आखिरी चंद्र ग्रहण (Lunar eclipse) लगना वाला है। जैसे कि हम जानते हैं कि साल में दो ही बार  चंद्र ग्रहण होते हैं। वैज्ञानिकों द्वारा बताया जाता है कि भारत में पूर्वी भाग में आंशिक रूप से चंद्र ग्रहण (chandr grahan) दिखाई देगा। इस कारण देश में सूतक काल (Sutak period) मान्य नहीं होगा।
ज्योतिष के मुताबिक चंद्र ग्रहण (chandr grahan) का सभी राशियों पर प्रभाव पड़ेगा। कुछ राशियों पर चंद ग्रहण का शुभ प्रभाव पड़ेगा लेकिन कुछ राशि के लिए ये चंद्र ग्रहण बहुत ही खतरनाक साबित हो सकता है जैसे कि

यह भी पढ़ें- कार्तिक पूर्णिमा के दिन जरूर करें गंगा स्नान, खुल जाएंगे भाग्य और चमक उठेगी किस्मत

वृषभ (Taurus)- साल का दूसरा व अंतिम चंद्र ग्रहण वृषभ राशि में लगेागा। इस दौरान आपको सावधान रहने की जरूरत है।  ग्रहण के समय आपको वाहन आदि में सावधानी बरतनी चाहिए। मानसिक तनाव का शिकार हो सकते हैं।

कन्या (Virgo)- इस दौरान माता-पिता के साथ शब्दों का चयन सोच-समझ कर करें। पिता के स्वास्थ्य का ध्यान रखें। चंद्र ग्रहण के दौरान पैसों से जुड़ा कोई लेन-देन न करें।
तुला (Libra)- तुला राशि के अष्टम भाव में चंद्र ग्रहण लगने जा रहा है। इस दौरान आपको स्वास्थ्य का ध्यान रखना होगा। कोई पुरानी बीमारी परेशान कर सकती है।
वृश्चिक (Scorpio)- चंद्र ग्रहण के दौरान आपको वैवाहिक जीवन में कुछ परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। वाद-विवाद से बचना चाहिए। कारोबारियों को लेन-देन में सावधानी बरतनी चाहिए।

धनु (Sagittarius)- धनु राशि वालों को इस दौरान अपने विरोधियों से सावधान रहना होगा। चंद्र ग्रहण आपके षष्ठम भाव यानी शत्रुओं के भाव में लग रहा है।