प्रदोष व्रत। अनंग त्रयोदशी। श्री महावीर जयंती। वैशाखी। सूर्य अश्विनी नक्षत्र में एवं सूर्य की मेष संक्रांति प्रात: 8.41 बजे। संक्रांति का विशेष पुण्यकाल सूर्योदय से मध्याह्न 12.41 बजे तक। सूर्य उत्तरायण। सूर्य उत्तर गोल। वसंत ऋतु। अपराह्न 1.30 बजे से अपराह्न 3 बजे तक राहुकालम्। 14 अप्रैल, गुरुवार, 24 चैत्र (सौर) शक 1943, 30 चैत्र मास प्रविष्टे 2079, 12 रमजान सन् हिजरी 1443, चैत्र शुक्ल त्रयोदशी रात्रि 3.57 बजे तक उपरांत चतुर्दशी, पूर्वा फाल्गुनी नक्षत्र प्रात: 9.56 बजे तक तदनंतर उत्तरा फाल्गुनी नक्षत्र, वृद्धि योग प्रात: 8.51 बजे तक पश्चात ध्रुव योग, कौलवकरण, चंद्रमा सायं 3.54 बजे तक सिंह राशि में उपरांत कन्या राशि में।

यह भी पढ़े : राशिफल 14 अप्रैल: इन राशियों के लिए आज का दिन सर्वश्रेठ , सूर्यदेव को जल दें, काली वस्‍तु का दान करें


त्यौहार और व्रत

बैसाखी

प्रदोष व्रत

मेष संक्रांति

यह भी पढ़े : लव राशिफल 14 अप्रैल: इन राशि वालों की लव लाइफ में होगा कुछ बड़ा चेंज  , रोमांटिक डेट लिए आज का दिन सही है


सूर्य और चंद्रमा का समय

सूर्योदय - 6:11 AM

सूर्यास्त - 6:43 PM

चन्द्रोदय - Apr 14 4:33 PM

चन्द्रास्त - Apr 15 5:11 AM

यह भी पढ़े : इन 3 राशि वालों के नौकरी में स्थान परिवर्तन के बन रहे हैं योग, 29 अप्रैल तक तरक्की भी मिल सकती है


आज के अशुभ काल

राहू - 2:01 PM – 3:35 PM

यम गण्ड - 6:11 AM – 7:45 AM

कुलिक - 9:19 AM – 10:53 AM

दुर्मुहूर्त - 10:21 AM – 11:11 AM, 03:22 PM – 04:12 PM

वर्ज्यम् - 05:02 PM – 06:36 PM

आज के शुभ काल

अभिजीत मुहूर्त - 12:02 PM – 12:52 PM

अमृत काल - 02:29 AM – 04:04 AM

ब्रह्म मुहूर्त - 04:35 AM – 05:23 AM