कल्पादि तृतीया। संकष्टी श्री गणेश चतुर्थी व्रत। ब्रह्मावर्त (बिठूर) में सिद्ध गणेश मंदिर में अभिषेक सूर्य उत्तरायण। सूर्य उत्तर गोल। वसंत ऋतु। प्रात: 7.30 से प्रात: 9 बजे तक राहुकालम्। 21 मार्च, सोमवार, 30 फाल्गुन (सौर) शक 1943, 6 चैत्र मास प्रविष्टे 2078, 17 शाबान सन् हिजरी 1443, चैत्र कृष्ण तृतीया प्रात: 8.21 बजे तक उपरांत चतुर्थी, स्वाति नक्षत्र रात्रि 9.31 बजे तक तदनंतर विशाखा नक्षत्र, व्याघात योग सायं 3.54 बजे तक पश्चात् हर्षण योग, भद्रा (करण) प्रात: 8.21 बजे तक, चंद्रमा तुला राशि में (दिन-रात)।

यह भी पढ़े : राशिफल 21 मार्च: इन राशि वालों के लिए आज का दिन विशेष, सूर्यदेव को जल दें और मां काली की अराधना करें।


त्यौहार और व्रत

संकष्टी गणेश चतुर्थी

सूर्य और चंद्रमा का समय

सूर्योदय - 6:33 AM

सूर्यास्त - 6:34 PM

चन्द्रोदय - Mar 21 9:46 PM

चन्द्रास्त - Mar 22 9:10 AM

यह भी पढ़े : Sankashti Chaturthi :  मनोकामना पूर्ण करने वाला संकष्टी चतुर्थी व्रत आज, जानिए शुभ मुहूर्त, पूजा विधि


आज के अशुभ काल

राहू - 8:04 AM – 9:34 AM

यम गण्ड - 11:04 AM – 12:34 PM

कुलिक - 2:04 PM – 3:34 PM

दुर्मुहूर्त - 12:58 PM – 01:46 PM, 03:22 PM – 04:10 PM

वर्ज्यम् - 02:49 AM – 04:19 AM

आज के शुभ काल

अभिजीत मुहूर्त - 12:10 PM – 12:58 PM

अमृत काल - 01:08 PM – 02:39 PM

ब्रह्म मुहूर्त - 04:57 AM – 05:45 AM