आज शुक्रवार (Friday) है और आज के दिन धन की देवी मां लक्ष्मी (Goddess Lakshmi) को समर्पित होता है। आज के दिन मां लक्ष्मी की विधि विधान के साथ पूजा की जाती है। शुक्रवार को किए गए धन के उपाय बहुत की कारगर साबित होते हैं। आपी जानकारी के लिए बता दें कि मां लक्ष्मी (Goddess Lakshmi) चंचला होती हैं इसलिए वह एक स्थान पर टिकती नहीं हैं।

मां लक्ष्मी एक जगह पर रोकने के लिए उनकी मंत्रों का उच्चारण के साथ पूजा की जाती है। बता दें कि लक्ष्मी पूजन बहुत गोपनीय तरीके से की जाती है। जानिए उपाय


शास्त्रों मां लक्ष्मी (maa lakshmee) से जुड़ी एक पौराणिक कथा है कि समुद्र मंथन से पूर्व सभी देवता धन विहीन हो गए थे। समुद्र मंथन के दौरान मां लक्ष्मी के प्रकट होने पर देवराज इंद्र ने मां लक्ष्मी की स्तुति की थी। इससे खुश होकर मां लक्ष्मी ने देवराज इंद्र (Devraj Indra) को वरदान दिया और कहा कि तुम्हारे द्वारा किए गए द्वादश आक्षर मंत्र का जाप कोई भी व्यक्ति प्रति दिन तीनों संध्याओं में भक्तिपूर्वक जाप करेगा, वह कुबेर के सदृश्य ऐश्वर्ययुक्त हो जाएगा।

लक्ष्मी जी (maa lakshmee) के ये आठ स्वरूप जीवन की आधारशिला हैं। अष्ट लक्ष्मी (Ashta Lakshmi) की साधना करने से जीवन में धन का अभाव समाप्त हो जाता है। जातक कर्ज के चक्रव्यूह से बाहर आ जाता है। आयु में वृद्धि होती है, बुद्धि कुशाग्र होती है, समाज में सम्मान मिलता है और सेहत अच्छी रहती है। जीवन में वैभव आता है।