साल का पहला सूर्य ग्रहण आज शनिश्चरी अमावस्या को आधी रात को शुरू होगा। हालांकि यह आंशिक सूर्यग्रहण होगा। यह ग्रहण मुख्य रूप से अंटार्कटिका क्षेत्र में दिखाई देगा। इसे दिक्षिणी अमेरिका के दक्षिणी-पश्चिमी हिस्से पर और अटलांटिक महासागर में भी देखा जा सकेगा। लेकिन भारत के खगोल प्रेमियों को थोड़ी निराशा हाथ लगेगी क्योंकि यह ग्रहण भारत में नहीं दिखेगा। खगोलविदों के अनुसार, सूर्य, चंद्रमा और पृथ्वी जब एक सीध में आते हैं तो कुछ देर के लिए सूर्य की किरणे पृथ्वी पर नहीं पहुंच पाती जिसे सूर्यग्रहण के नाम से जानते हैं। ऐसा अमावस्या के दिन कभी-कभार होता है।

यह भी पढ़े : राशिफल 30 अप्रैल 2022: चंद्रमा और राहु ग्रहण योग बनाकर चल रहे हैं, आज इन राशिवालों को लिए धन लाभ के योग


सूर्यग्रहण 2022 अप्रैल का समय-

साल का पहला सूर्यग्रहण 30 अप्रैल को आधी रात 12 बजकर 15 मिनट से शुरू होगा और सुबह 04 बजकर 07 मिनट तक रहेगा। यह आंशिक सूर्यग्रहण होगा।

सूर्य ग्रहण दिखने का समय

खगोलविद देवी प्रसाद दौरी के अनुसार, यह आंशिक सूर्य ग्रहण भारतीय मानक समय आज रात को 00:15 बजे शुरू होगा और ग्रहण का चरम 2.11AM पर दिखाई देगा। वहीं ग्रहण समाप्ति का समय सुबह 4.07 बजे रहेगा।

यह भी पढ़े : 30 अप्रैल को होगा सूर्यग्रहण, बन रहा है शनि अमावस्या का दुर्लभ संयोग, इन तीन राशियों के लिए रहेगा भाग्यशाली


ऐसे ऑनलाइन देख सकते हैं ग्रहण :

चूंकि यह सूर्यग्रहण भारत में दिखाई नहीं देगा लेकिन इस महान खगोलीय घटना में दिलचस्पी रखने वाले लोग ऑनलाइन यूट्यूब पर ग्रहण देख सकेंगे। कई चैनल यूट्यूब पर ग्रहण को लाइव दिखाते हैं।