आज शनिवार है और आज का दिन सूर्य पूत्र शनिदेव को समर्पित होता है। Shani Dev न्याय के देवता माने जाते हैं। इनका रंग काला है और इनको काले रंग की वस्तुएं ही अच्छी लगती है। यह मानव के कर्मो का हिसाब रखते हैं और उस हिसाब से उनको सुख और दुख देते हैं। शनिदेव के बारे में शास्त्रों में बताया गया है कि शनिवार के दिन कुछ कार्य करने से शनिदेव शुभ आर्शीवाद देते हैं जैसे कि.....
Shani Dev से जुड़े कष्टों के निवारण के लिए शनिवार के दिन सरसों का तेल दान किया जाता है, सरसों के तेल का दीपक जलाया जाता है। लेकिन इसे कभी शनिवार के दिन खरीदकर नहीं लाना चाहिए। मान्यता है कि इससे घर में नकारात्मकता और रोग बढ़ते हैं।
शनिवार के दिन लोहे की चीजों का दान बेहद प्रभावकारी होता है, लेकिन अगर शनिवार के दिन इसकी खरीददारी की जाए तो जीवन में तमाम परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। इसलिए शनिवार के दिन लोहा न खरीदें।
नमक का संबन्ध भी शनिवार के दिन से है। नमक का दान हमेशा ही अच्छा माना गया है, लेकिन शनिवार के दिन नमक को खरीदना शुभ नहीं माना जाता। इससे व्यक्ति पर कर्ज का भार बढ़ता है।
Saturday के दिन किसी भी तरह की कैंची या चाकू खरीदकर न लाएं। मान्यता है कि इससे परिवार में आपसी कलह बढ़ती है और रिश्तों में दूरियां पैदा हो जाती हैं।