शीतला अष्टमी 4 अप्रैल को है। इसे बसौड़ा पूजा के नाम से भी जानते हैं। हिंदू पंचांग के अनुसार, शीतला माता की पूजा हर साल चैत्र कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि की जाती है। इस दिन घरों में चूल्हा नहीं जलाया जाता है। 

शीतला अष्टमी के दिन लोग माता शीतला को बासी खाने का भोग लगाते हैं। बाद में इसे प्रसाद के रूप में ग्रहण किया जाता है। शीतला अष्टमी को ऋतु परिवर्तन का संकेत भी माना जाता है। क्योंकि इस दिन के बाद से ग्रीष्म (गर्मी) ऋतु शुरू हो जाती है और गर्मियों में बासी भोजन नहीं खाया जाता है।

शीतला अष्टमी पूजा मुहूर्त - 06:08 AM से 06:41 PM तक।

अवधि - 12 घण्टे 33 मिनट।

अष्टमी तिथि प्रारम्भ - अप्रैल 04, 2021 को 04:12 AM बजे

अष्टमी तिथि समाप्त - अप्रैल 05, 2021 को 02:59 AM बजे।