ज्योतिष शास्त्र में  शनि राशि परिवर्तन काफी महत्वपूर्ण माना गया है। शनि का राशि परिवर्तन करीब ढाई साल में होता है। जबकि शनि राशि चक्र पूरा करने में करीब 30 साल का समय लेते हैं। न्याय देवता शनि देव 29 अप्रैल को अपनी स्वराशि कुंभ में गोचर करने जा रहे हैं। वैदिक ज्योतिष के अनुसार, शनि को सबसे धीमी गति का ग्रह माना गया है। शनिदेव सभी राशि वालों को कर्मों के हिसाब से फल देते हैं। 29 अप्रैल को शनि के कुंभ राशि में गोचर करने से तीन राशि वालों के अच्छे दिन शुरू हो सकते हैं। जानें इन राशियों के बारे में-

यह भी पढ़े : राशिफल 29 अप्रैल 2022: शनि आज से करेंगे कुंभ राशि में प्रवेश, आज इन लोगे को व्यापार में होगा लाभ ही लाभ 


मेष- शनिदेव के कुंभ राशि में प्रवेश करते ही आपको शुभ समाचार मिल सकता है। शनि ग्रह आपकी राशि के 11वें भाव में गोचर करने जा रहे हैं। जिसे लाभ व आय का भाव कहा जाता है। इसलिए इस समय आपको कारोबार में धन लाभ हो सकता है। आय के कई साधन बनेंगे। व्यापार में बड़ी डील फाइनल हो सकती है। शनिदेव आपकी राशि के दशम भाव के स्वामी हैं, इसलिए आपको करियर में तरक्की मिल सकती है। नई नौकरी का प्रस्ताव मिल सकता है। इस समय आपको आकस्मिक धन लाभ के योग बनेंगे।

यह भी पढ़े : 30 अप्रैल को होगा सूर्यग्रहण, बन रहा है शनि अमावस्या का दुर्लभ संयोग, इन तीन राशियों के लिए रहेगा भाग्यशाली


वृषभ- आपकी राशि से दशम भाव में शनिदेव गोचर करेंगे। जिसे कार्यक्षेत्र व नौकरी का भाव कहा जाता है। इसलिए कारोबारियों को व्यापार में जबरदस्त मुनाफा हो सकता है। करियर में पदोन्नति मिल सकती है। कार्यस्थल पर आपको मान-सम्मान प्राप्त होगा। उच्चाधिकारियों का सहयोग प्राप्त होगा। वृषभ राशि के स्वामी ग्रह शुक्र हैं। शनि व शुक्र के बीच मित्रता का भाव होने से आपके लिए यह राशि परिवर्तन लाभकारी साबित होगा। इस दौरान आपको भाग्य का साथ मिलेगा।

यह भी पढ़े : Today's Panchang April 29 : आज है मासिक शिवरात्रि , शुभ पंचांग से जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल


धनु- धनु राशि वालों के लिए शनि गोचर बेहद लाभकारी रहने वाला है। शनि के कुंभ राशि में गोचर करते ही आपको शनि की साढ़े साती से मुक्ति मिल जाएगी। आपको तरक्की के नए अवसर मिलेंगे। शनि ग्रह आपकी राशि के तीसरे भाव में गोचर करेंगे। जिसे पराक्रम का भाव कहा जाता है। इस दौरान आपके पराक्रम में वृद्धि होगी। पुराने रोग से मुक्ति मिलेगी। लंबे समय के अटके काम पूरे होंगे। भाई-बहन का सहयोग मिलेगा।