चैत्र नवरात्रि के लिए घटस्थापना 13 अप्रैल को होगी। इसके लिए शुभ मुहूर्त सुबह 05 बजकर 28 मिनट से सुबह 10 बजकर 14 मिनट तक है। हिंदी पंचांग के अनुसार, भारतीय नववर्ष की शुरुआत भी चैत्र प्रतिपदा से होती है। इसके अलावा चैत्र महीनेसे ही नव संवत्सर की भी शुरुआत होती है। चैत्र नवरात्रि के पहले दिन दोपहर 02 बजकर 19 मिनट तक अश्विनी नक्षत्र रहेगा, उसके बाद भरणी। 

घटस्थापना के दिन शुभ मुहूर्त-

अमृतसिद्धि योग - 13 अप्रैल की सुबह 06 बजकर 11 मिनट से दोपहर 02 बजकर 19 मिनट तक। 

सर्वार्थसिद्धि योग - 13 अप्रैल की सुबह 06 बजकर 11 मिनट से 13 अप्रैल की दोपहर 02 बजकर 19 मिनट तक।

अभिजीत मुहूर्त - दोपहर 12 बजकर 02 मिनट से  दोपहर 12 बजकर 52 मिनट तक।

अमृत काल - सुबह 06 बजकर 15 मिनट से 08 बजकर 03 मिनट तक।

ब्रह्म मुहूर्त- सुबह 04 बजकर 35 मिनट से सुबह 05 बजकर 23 मिनट तक।

चैत्र नवरात्रि के पहले दिन ऐसे करें घटस्थापना, नोट कर लें पूजन सामग्री व विधि

चैत्र नवरात्रि के पहले दिन अशुभ मुहूर्त-

राहुकाल - 3:35 PM – 5:09 PM

यम गण्ड - 9:19 AM – 10:53 AM

कुलिक - 12:27 PM – 2:01 PM

दुर्मुहूर्त - 08:42 AM – 09:32 AM, 11:18 PM – 12:04 AM

वर्ज्यम् - 01:08 AM – 02:56 AM

शुभ योग-

विष्कुम्भ - Apr 12 02:27 PM – Apr 13 03:16 PM

प्रीति - Apr 13 03:16 PM – Apr 14 04:15 PM