म्यूजिक सुनना हर किसी को पसंद होता है। म्यूजिक सुनकर लंबे रास्ते छोटे हो जाते हैं। खुश होने और दुखी होने पर म्यूजिक सबसे खास भूमिका निभाता है। यही नहीं म्यूजिक से इंसान अपने जीवन के कई तरह के सफर कर लेते हैं। हाल ही में शोध हुआ है, जिसमें म्यूजिक के बारे में चौंकाने वाला खुलासा हुआ है।

हाल ही में हुए शोध से पता चलता है कि रोज 20 मिनट अपनी पसंद का संगीत सुनने से रोजमर्रा की होने वाली बहुत-सी बीमारियों से निजात पाई जा सकती है। कई दिनों से कोमा में पड़ा एक बच्चा अपनी मां की लोरी सुनकर होश में आने की कई तरह की खबरे आती है। जिससे यह सिद्ध होता है कि ध्वनि तरंगों के माध्यम से भी उपचार किया जा सकता है।


जानकारी के लिए बता दें कि गंधर्व-वेद जो उपवेद भी कहलाता है, संगीत पर आधारित है। इसमें भी रोगियों के उपचार के लिए संगीत का उपयोग किए जाने का उल्लेख है। प्राचीन शास्त्रों के अनुसार यदि किसी जातक को किसी ग्रह विशेष से संबंधित रोग हो और उसे उस ग्रह से संबंधित राग, सुर अथवा गीत सुनाए जाएं तो जातक विशेष जल्दी ही स्वस्थ हो जाता है।