कहते हैं कि जोड़ियां तो ऊपर से बनकर आती है। जो नसीब है वो पाटर्नर ही मिलता है। वैसे जो जब भी शादी ब्याह होता है तो लड़के लड़कियों की जन्म कुंडली मिलाई जाती है। जिससे उनके गुणों का मेल कराया जाता है। माना जाता है कि जब गुण अच्छे से मिलते तो रिश्ता किया जाता है लेकिन कभी कभी बिना कुंडली के भी रिश्ते हो जाता करते हैं और सफल भी होते हैं। बता दें शास्त्र में कुछ राशियां होती है जो जिसकी लड़कियां पत्नी के रूप बहुत लकी साबित होती है।

मेष राशि-

Aries राशि की लड़कियां बहुत ही निडर होती हैं। मेष राशि का स्वामी मंगल ग्रह है। मंगल को ग्रहों का सेनापति भी कहा गया है। जिन लड़कियों की मेष राशि होती है वे रणनीति बनाने में माहिर होती हैं। ये बिना योजना के कोई कार्य नहीं करती हैं। ये समय आने पर चुनौतियां का डटकर मुकाबला करती हैं।

मिथुन राशि-


Gemini राशि की लड़कियां बहुत ही गंभीर और प्रत्येक कार्य को बहुत ही जिम्मेदारी से करती हैं। मिथुन राशि का स्वामी बुध है, ज्योतिष शास्त्र में बुध को ग्रहों का राजकुमार कहा गया है। ये एक सौम्य ग्रह माना गया है। बुध का संबंध वाणी, बिजनेस, संगीत, गायन, कानून, तर्क शास्त्र, सेंस् ऑफ ह्यूमर, त्वचा आदि का भी कारक माना गया है। विवाह के बाद ऐसी लड़कियों का भाग्य बहुत तेजी से बदलता है।

यह भी पढ़ें- हिमंता सरकार बेरोजगार युवाओं को देने वाली है शानदार तोहफा


मीन राशि-

Pisces राशि के स्वामी बृहस्पति ग्रह हैं। बृहस्पति को गुरु भी कहा जाता है। इस ग्रह का संबंध उच्च शिक्षा, ज्ञान, उच्च पद आदि से भी है। जिन लड़कियों की राशि मीन होती है, वे अपने मान सम्मान के साथ किसी भी तरह का समझौता नहीं करती हैं। ये समूह को साथ लेकर चलने पर विश्वास करती हैं। मीन राशि की लड़कियों का भाग्य शादी के बाद चमकता है।