कार्तिक माह की अमावस्या के दिन देशभर में दिवाली (Diwali 2021) का त्योहार मनाया जाता है। इस बार 4 नवंबर के दिन दिवाली का त्योहार मनाया जाएगा। दिवाली को बस कुछ ही दिन बाकी हैं। लोगों में त्योहार को लेकर उत्साह अभी से देखा जा सकता है। धनतेरस (Dhanteras 2021) के दिन से ही दिवाली पर्व की शुरुआत हो जाती है। कई दिन पहले से ही मां लक्ष्मी (Maa Lakshmi Puja) को प्रसन्न करने के लिए घरों में साफ-सफाई शुरू कर दी जाती है। घरों को सजाया जाता है। कहते हैं कि घर में सजाने की बहुत सी चीजें ऐसी होती हैं, जो लक्ष्मी जी को प्रसन्न करती हैं। इनमें से एक है रंगोली (Rangoli)। कहते हैं कि लक्ष्मी जी के स्वागत के लिए लोग घरों के आंगन में रंग-बिरंगी रंगोली बनाते हैं। साथ ही, घर के मुख्य द्वार में ये चीजे लटकाने से भी सालभर लक्ष्मी जी की कृपा प्राप्त होती है। 

मान्यता है कि दिवाली की रात मां लक्ष्मी मुख्य द्वार से प्रवेश करती हैं। इसलिए घर के मुख्य द्वार की सजावट मुख्य रूप से की जाती है। और मेन गेट को सजाना शुभ माना जाता है। आइए जानते हैं कुछ ऐसे ही उपाय दिवाली के मौके पर आप भी अपना कर मां लक्ष्मी की कृपा पा सकते हैं। 

मां लक्ष्मी के पैर के चिन्ह

आज कल बाजारों में मां लक्ष्मी के पैरों के चिन्ह मिलते हैं। उन्हें घर के मुख्य द्वार पर चिपकाना शुभ माना जाता है। पैर के चिन्ह लगाते समय इस बात का ध्यान रखें कि उनके पैर के निशान अंदर की ओर हों। ताकि ये सुनिश्चित हो सके कि दिवाली की रात मां सीधे आपके घर चली आएं और आपको आशीर्वाद दें। 

स्वस्तिक

कहते हैं कि घर के मुख्य दरवाजे पर चांदी का स्वास्तिक लगाना शुभ माना जाता है। अगर चांदी का स्वास्तिक लगाना संभव न हो तो ऐसे में आप रोली का स्वास्तिक भी बना कर लगा सकते हैं। या फिर डायरेक्ट बना सकते हैं। ये सभी तरह की नकारात्मक ऊर्जा को दूर करता है और मां लक्ष्मी का आशीर्वाद प्राप्त होता है। 

तोरण

मान्यता है कि दिवाली के दिन मां धरती पर भ्रमण करती हैं और भक्तों के घर वास करने आती है। ऐसे में मां के स्वागत के लिए मुख्य दरवाजे पर तोरण बनाई जाती है। माना जाता है कि दिवाली के मौके पर आम या केले के पत्तों की तोरण लगाना शुभ होता है। पुष्प का भी इस्तेमाल करके तोरण बना सकते हैं। इतना ही नहीं, धनतेरस के दिन तोरण लगाएं और दिवाली के एक दिन बाद लगाएं। 

रंगोली

रंगोली का महत्व सिर्फ सजावट के रूप में ही नहीं है। बल्कि रंगोली बनाने से परिवार में सुख-शांति और समृद्धि बनी रहती है। दिवाली के दिन घर के मुख्य द्वार पर रंगोली बनाएं और एक कलश में पानी भरकर रंगोली के पास रखना शुभ माना जाता है। इसके साथ ही रंगोली मां लक्ष्मी के स्वागत के लिए भी बनाई जाती है।