अक्सर ज्यादातर लोगों ने इस बात पर ध्यान दिया होगा कि अचानक से घर में चूहों की संख्या बढ़ जाती है। चूहे घर के कोनों में बिल बना लेते हैं और साफ-सफाई करने के बाद भी चूहे घर में इधर-उधर दिखाई देते रहते हैं। घर में अचानक चूहों की संख्या बढ़ने को लेकर भी कई मान्यताएं हैं। जिनके अनुसार कुछ लोग घर में चूहों की संख्या अचानक बढ़ना शुभ मानते हैं तो वहीं कुछ लोग इसे शुभ नहीं मानते हैं। तो चलिए जानते हैं कि घर में अचानक चूहों का बढ़ना क्या संकेत देता है।

लोकप्रचलित मान्यताओं के अनुसार घर में काले चूहों की संख्या अधिक होने से किसी परेशानी के अचानक होने का अंदेशा रहता है। माना जाता है कि घर में बहुत अधिक चूहे  घूमने से शत्रुओं की तरफ से नुकसान होने और रोगों की बढ़ने का संकेत होता है। मान्यता है कि घर के सामान की तरह चूहे सुख-समृद्धि को भी कुतर देते हैं।

वास्तु शास्त्र के अनुसार चूहे घर के कोनों में सुरंग की तरह बिल बना लेते हैं, जिसके कारण उन बिलों में हमेशा अंधेरा पसरा रहता है जो की घर में नाकारात्मक और अज्ञानी शक्तियों का प्रतीक माना जाता है, लेकिन चूहे को मारना नहीं चाहिए क्योंकि चूहा गणेश भगवान का वाहन है। आने वाली परेशानियों से बचने के लिए आपको बप्पा की पूजा करनी चाहिए और नकारात्मकता को दूर करने के लिए कोनों के पास फिटकरी का टुकड़ा रख दें। एक माह के बाद वह टुकड़ा बदल कर नया रखें।

अक्सर लोग घर में छछूंदरों को नहीं आने देते हैं लेकिन जहां चूहों को अशुभता का कारक माना जाता है तो वहीं छछूंदरों का घर में आना बहुत ही शुभ माना जाता है। मान्यताओं के अनुसार कहा जाता है कि जिस घर में छछूंदर घूमती हैं वहां लक्ष्मी की वृद्धि होती है। चूहों को मारने की बजाए उन्हें घर से दूर करने के उपाय करने चाहिए।