ज्योतिष शास्त्र में शनि को न्याय का देवता कहा गया है। यानी शनि देव की नजर किसी पर टेढ़ी हुई तो उसे तुरंज सजा देते हैं और यदि किसी राशि के जातक पर उनकी अच्छी दृष्टि हो तो उसपर अपनी कृपा बरसाते हैं। 

2021 में शनि का कोई राशि परिवर्तन नहीं होगा। क्योंकि शनिदेव 2.5 साल में अपनी राशि बदलते हैं। इस साल शनि अपनी स्वराशि मकर में हैं। स्वराशि में होने के कारण शनि बलवान रहेंगे और ज्यादातर राशियों पर अपनी कृपा बरसाएंगे। इस राशि पर शनि 2022 तक रहेंगे क्योंकि 2020 में वह धनु से मकर में आए हैं। 

ज्योतिष के जानकारों के अनुसार, शनि देव 22 जनवरी से अपना नक्षत्र परिवर्तन कर चुके हैं। वह उत्तराषाढ़ा नक्षत्र से श्रावण नक्षत्र में प्रवेश कर चुके हैं। ऐसे में पूरे साल 2021 में सभी राशियों के जाततों पर शनि का प्रभाव देखने को मिलेगा।

इन राशियों पर बरसेगी कृपा : ज्योतिष के अनुसार, 2021 में शनि के नक्षत्र परिवर्तन से 7 राशियों कन्या, तुला, वृश्चिक, धनु, मकर और मीन राशि के जातकों शुभ परिणाम प्राप्त होंगे। 2021 में मिथुन, सिंह और कुंभ राशि के जातकों को बहुत ही सावधान रहना होगा। वहीं मेष, वृष और कक्र वालों पर मिलाजुला असर देखने को मिलेगा। लेकिन कई अन्य ग्रह-नक्षत्रों के परिवर्तन व प्रभाव से हर महीने आप पर शनि का असर अल-अलग दिख सकता है।