ग्रहों की स्थिति-मेष राशि में सूर्य, बुध और राहु हैं। कन्‍या राशि के चंद्रमा हैं। केतु तूला राशि के हैं। शनि मकर राशि के हैं। कुंभ राशि में शुक्र और मंगल हैं। गुरु मीन राशि के हो चुके हैं।

यह भी पढ़े : Hanuman Jayanti पर इस शुभ योग में करें महाबली की पूजा, हनुमान जयंती पर करें धन प्राप्ति के लिए उपाय


राशिफल-

मेष-समय थोड़ा मध्‍यम चल रहा है। बच्‍चों की सेहत पर ध्‍यान दें। प्रेम में तू-तू, मैं-मैं से बचें। सरकारी तंत्र की गाज गिर सकती है। शत्रु नुकसान पहुंचाने की कोशिश करेंगे। हालांकि नुकसान वे नहीं पहुंचा पाएंगे। बुजुर्गों के आशीर्वाद से आपका काम निकल जाएगा। व्‍यापारिक दृष्टिकोण से सही चलते रहेंगे। सूर्यदेव को जल अर्पित करते रहें। हरी वस्‍तु का दान करें।

वृषभ-आंखों में चोट लग सकती है। सिरदर्द, नेत्रपीड़ा, मानसिक परेशानी, साझेदारी में समस्‍या हो सकती है। स्‍वास्‍थ्‍य आपका ठीक रहेगा। प्रेम में तू-तू, मैं-मैं हो सकती है। बच्‍चों की सेहत पर ध्‍यान दें। व्‍यापारिक दृष्टिकोण से आप सही चलेंगे। सूर्यदेव को जल अर्पित करते रहें। हरी वस्‍तु पास रखें।

यह भी पढ़े : Hanuman Jayanti 2022: शनि-राहु-केतु के दोष दूर करने के लिए इस दिन राशि के अनुसार करें ये उपाय


मिथुन-आय में आशातीत बढ़ोत्‍तरी होगी लेकिन आय के मार्ग का जरूर ध्‍यान रखें। पिता के स्‍वास्‍थ्‍य पर ध्‍यान दें। स्‍वास्‍थ्‍य मध्‍यम है। प्रेम और संतान की स्थिति भरपूर अच्‍छी है। भौतिक सुख-संपदा में वृद्ध‍ि होगी लेकिन गृहकलह का संकेत दिख रहा है। गणेश जी की अराधना करते रहें। हरी वस्‍तु पास रखें।

कर्क-जीवन में थोड़ा सा सुधार शुरू हुआ है। गुरु के नवम भाव में जाने से शुभता में थोड़ी वृद्धि हुई है। हालांकि अभी अष्‍टम भाव का मंगल प्रेम, संतान और रोजगार प्रभावित कर रहा है। स्‍वास्‍थ्‍य पहले से बेहतर है। बजरंग बाण का पाठ करें। अच्‍छा होगा।

सिंह-स्‍वास्‍थ्‍य पर ध्‍यान दें। बच्‍चों की सेहत और प्रेम की स्थिति में थोड़ा खलल पड़ा हुआ है, ध्‍यान दें। धन का आगमन बढ़ेगा। वाणी को नियंत्रण में रखें। पूंजी निवेश अभी न करें। पीली वस्‍तु पास रखें। काली वस्‍तु का दान करें।

कन्‍या-आकर्षण के केंद्र बने रहेंगे। जिस चीज की जरूरत होगी उसकी उपलब्‍धता होगी। स्‍वास्‍थ्‍य अच्‍छा है। प्रेम की स्थिति सही है। व्‍यापारिक दृष्टिकोण से आप सही चल रहे हैं। शनिदेव की अराधना करते रहें।

तुला-मन अशांत रहेगा। अज्ञात भय सताएगा। स्‍वास्‍थ्‍य अच्‍छा कहा जाएगा। प्रेम और संतान के दृष्टिकोण से सुखद समय है। व्‍यापारिक दृष्टिकोण से भी आप सही चल रहे हैं। हरी वस्‍तु पास रखें। शनिदेव की अराधना करते रहें।

वृश्चिक-आय के नवीन मार्ग प्रशस्‍त होंगे। पुराने मार्ग से भी पैसे आएंगे। मन संकुल रहेगा। स्‍वास्‍थ्‍य अच्‍छा है। प्रेम और व्‍यापार का भरपूर सहयोग रहेगा। पीली वस्‍तु पास रखें।

धनु-राजसत्‍ता पक्ष का सहयोग मिलेगा। उच्‍चाधिकारियों का आशीर्वाद मिलेगा। नौकरी-चाकरी और व्‍यापारिक दृष्टिकोण से सुखद समय है। स्‍वास्‍थ्‍य अच्‍छा है। प्रेम और व्‍यापार का भरपूर सहयोग मिलेगा। हरी वस्‍तु का दान करें।

मकर-भाग्‍य साथ देगा। रुका हुआ काम चल पड़ेगा। यात्रा में लाभ होगा। धार्मिक बने रहेंगे। स्‍वास्‍थ्‍य अच्‍छा है। प्रेम की स्थिति पहले से बहुत अच्‍छी है। व्‍यापारिक दृष्टिकोण से भी धीरे-धीरे आगे बढ़ रहे हैं। गणेश जी की अराधना करते रहें।

कुंभ-एक दिन और थोड़ा विपरीत समय है। स्‍वास्‍थ्‍य मध्‍यम है। प्रेम और संतान से थोड़ा सा मन खिन्‍न रहेगा। उनके स्‍वास्‍थ्‍य या आप से सम्‍बन्‍ध को लेकर। व्‍यापारिक दृष्टिकोण से धीरे-धीरे आगे बढ़ रहे हैं। हरी वस्‍तु पास रखें। गणेश जी की अराधना करें।

मीन-रोजी-रोजगार में तरक्‍की करेंगे। पर्सनल लाइफ की चीजें थोड़ी और सुधरेंगी। चली आ रही परेशानी दूर होगी। स्‍वास्‍थ्‍य अच्‍छा है। प्रेम और व्‍यापार का भरपूर सहयोग है। हरी वस्‍तु का दान करें।