हिंदू धर्म में शुभ अशुभ दिन का विशेष महत्व होता है। व्यक्ति किसी भी मांगलिक कार्य से पहले शुभ मुहूर्त के बारे में पता करता है। हिंदू धर्म में कोई भी मांगलिक कार्य जैसे विवाह, मुंडन व गृह प्रवेश करने से पहले शुभ तिथि व समय के बारे में पता करके ही कार्य किया जाता है। ऐसी मान्यता है कि शुभ मुहूर्त में किया गया कार्य हमेशा फलदायी होता है। 

यह भी पढ़े : Horoscope August 13 : आज ग्रहों का रहेगा अशुभ प्रभाव, ये राशि वाले बचकर पार करें समय, सूर्यदेव को जल अर्पित करें


घर बनाने का सपना हर व्यक्ति का होता है। घर में प्रवेश करने से पहले व्यक्ति शुभ मुहूर्त का विशेष ख्याल रखता है। क्योंकि इसका प्रभाव घरवालों के स्वास्थ्य, धन और वैवाहिक जीवन पर भी पड़ता है। ऐसे में गृह प्रवेश शुभ मुहूर्त में ही करना चाहिए। अगर गलत तिथि या वार को गृह प्रवेश करते हैं तो तमाम तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है। आइए जानते हैं गृह प्रवेश किस तिथि और वार को करना शुभ माना जाता है।

यह भी पढ़े : भाद्रपद मास आज से शुरू, इन राशियों के लिए बेहद शुभ रहेगा ये माह, इनको मिलेगा कोई शुभ समाचार


इन दिन न करें गृह प्रवेश

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार सभी मांगलिक कार्य की तरह नए घर में प्रवेश के दौरान ग्रह, नक्षत्र, वार व तिथि का ध्यान जरूर देना चाहिए। ज्योतिष में रविवार, मंगलवार और शनिवार के दिन गृह प्रवेश के लिए शुभ नहीं माना जाता है। इसके साथ ही पूर्णिमा और अमावस्या तिथि को भी गृह प्रवेश वर्जित माना जाता है। हिंदू कैलेंडर के अनुसार आषाढ़, सावन, भादो, पौष महीने में भी गृह प्रवेश नहीं करना चाहिए।

यह भी पढ़े : Shani Mahadasha Upay: शनि की साढ़े साती और महादशा का प्रभाव कम करने के लिए करें ये उपाय

इन दिनों में करें गृह प्रवेश

गृह प्रवेश करने के लिए ज्योतिष के अनुसार फाल्गुन, वैशाख व ज्येष्ठ का महीना सबसे ज्यादा शुभ माना जाता है। इसके अलावा नए घर में प्रवेश के लिए आप शुक्ल पक्ष की द्वितीय,  तृतीय, पंचमी, सप्तमी, दशमी, एकादशी, द्वादशी और त्रयोदशी तिथियां का चुनाव करना सबसे बेहतर होता है। इस दिन गृह प्रवेश करने से हर कार्य शुभ होता है।व्यक्ति के जीवन में बरकत होती है।