कमजोर भाग्य को मजबूत बनाने के लिए कुछ तरीके अपनाए जा सकते हैं। हालांकि इसके लिए आपके पास अपनी कुंडली मौजूद होना जरूरी है।

यह भी पढ़े : Horoscope today 25 May 2022: सिंह समेत इन राशि वालों का आज समय बहुत ख़राब, सूर्य भगवान को जल चढ़ाए 


दोष का कारण

कुंडली में लग्न, चंद्र और शुक्र की राशि से भी कभी-कभी मंगल दोष पैदा होता है। ऐसी स्थिति में योग्य ज्योतिषी की सलाह लें। कई बार दोष निवारण संभव नहीं होता, ऐसी स्थिति में अच्छे समय का इंतजार करें, लेकिन तब तक कर्म करने में विश्वास रखें।

मंगल दोष

यदि आप रिश्ता देख रहे हैं तो कुंडली मिलाते समय देखें कि कुंडली में कहीं मंगल दोष तो नहीं है। अगर कुंडली में प्रथम, द्वितीय, चतुर्थ, सप्तम, अष्टम व द्वादश स्थान में मंगल हो तो दोष माना जाता है। इसका निवारण करें।

यह भी पढ़े : Shukra Gohar 2022: अगले एक माह तक इन राशि वालों पर रहेगी मां लक्ष्मी की विशेष कृपा, इन राशि वालों के रिश्तों में सुधार होगा


गुरु ऐसे खुश होंगे

भाग्योदय के लिए गुरु की मजबूत दृष्टि हो तो यह दोष नष्ट हो जाता है। अत: सलाह के आधार पर गुरु की प्रसन्नता के उपाय करें। अपने इष्ट को मानें और इसके लिए दान जैसे कर्म करें।

बाधाओं के लिए

कुटुंब का स्थान जन्म कुंडली में अष्टम स्थान पर माना जाता है। ऐसे में मंगल की दृष्टि पडऩे पर इसमें बाधा आती है। अत: अंध-विश्वास से बचें।

यह भी पढ़े : Horoscope today 25 May 2022: सिंह समेत इन राशि वालों का आज समय बहुत ख़राब, सूर्य भगवान को जल चढ़ाए 


संदीप कोचर

सेलेब एस्ट्रोलॉजर, मुंबई

https://www.sundeepkochar.com/