हिंदू धर्म में मां लक्ष्मी के लिए शुक्रवार का दिन समर्पित है। जीवन में सुख-समृद्धि की प्राप्ति के लिए मां लक्ष्मी की पूजा की जाती है। शुक्रवार के दिन मां लक्ष्मी की पूजा की जाती है और व्रत रखा जाता है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, शुक्रवार के दिन कुछ उपायों को करने से शुक्र ग्रह की स्थिति मजबूत होती है और घर मां लक्ष्मी का आगमन होता है। जानें शुक्रवार को किन उपायों को करने से प्राप्त होती है सुख-समृद्धि-

यह भी पढ़े : Aaj ka Rashifal 9 September: इन राशि वालों के लिए आज भाग्य उदय होने वाला दिन , हरी वस्‍तु पास रखें


1. गुरुवार के साथ शुक्रवार के दिन हल्दी का इस्तेमाल जरूर करना चाहिए। इस दिन सुबह स्नान के पहले मुख्य द्वार की सफाई करनी चाहिए। पानी में हल्दी डालकर घर में छिड़काव करें। मान्यता है कि ऐसा करने से घर में मां लक्ष्मी का वास होता है।

2. गंगाजल का प्रयोग घर में पवित्र करता है। शुक्रवार के दिन घर की साफ-सफाई के बाद घर में गंगाजल का छिड़काव करें। ऐसा करने से घर में सकारात्मकता आती है।

3. श्री सूक्त का पाठ- शुक्रवार की शाम को माता लक्ष्मी के श्री सूक्त का पाठ करना चाहिए। इसके अलावा कनकधरा स्तोत्र का पाठ जरूर करना चाहिए। इससे देवी लक्ष्मी प्रसन्न होती है।

यह भी पढ़े : Love Horoscope September 9 : इन लोगों की लव लाइफ लौटेगी पटरी पर, अपने प्रिय के साथ दिल से दिल की


4. शुक्रवार के दिन मां लक्ष्मी को लाल बिंदी, चुनरी, चूड़िया सहित अन्य सोलह श्रृंगार अर्पित करना चाहिए। मान्यता है कि ऐसा करने से पति की आयु लंबी होती है। सौभाग्य की प्राप्ति होती है।

5. शुक्रवार के दिन मां लक्ष्मी के नाम का दीपक जलाते समय रुई के बदले कलावा की बत्ती बनाकर जलाएं। इससे मां लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है। 

6. शुक्रवार के दिन खीर का दिन करना शुभ माना जाता है। शुक्रवार के दिन साफ खीर बनाकर मां लक्ष्मी को भोग लगाना चाहिए। 

7. धन-संपदा में बढ़ोतरी के लिए शुक्रवार के दिन पांच लाल रंग के फूल को लेकर माता लक्ष्मी का ध्यान करें। फिर इन्हें अलमारी या तिजोरी में रख दें। मान्यता है कि ऐसा करने से घर में मां लक्ष्मी का आगमन होता है।

8. मां लक्ष्मी की पूजा करने के बाद प्लेट में चार कपूर के टुकड़े में दो लौंग रखकर आरती करना चाहिए। मान्यता है कि ऐसा करने से मां लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं।

9. घर से धन संबंधी किसी भी कार्य के लिए निकल रहे हैं तो मीठा दही खाकर निकलें। मान्यता है कि ऐसा करने से किसी भी काम में बाधा नहीं आती है।