पवन घंटी की पवित्र ध्वनि नकारात्मक ऊर्जा को कम कर सकारात्मक ऊर्जा को बढ़ा देती है. जैसे मंत्रों की ध्वनि और घंटों की पवित्र धुन से वास्तु दोष नष्ट होकर सुख-समृद्धि की वृद्धि होती है. उसी प्रकार पवन घंटी से भी वातावरण प्रभावित होता है. लेकिन पवन घंटी कहीं भी नहीं लटकानी चाहिए क्योंकि इनके लगाने का स्थान अत्यधिक महत्वपूर्ण होता है. 

यह भी पढ़े : Akshaya Tritiya 2022 : 50 वर्षों बाद बन रहा अद्भुत संयोग , 108 मखानों की माला मां लक्ष्मी को करें अर्पित , जानिए पूजन का श्रेष्ठ समय 


फेंगशुई में बेहद खास मानी गई हैं विंड चाइम्‍स  

फेंगशुई वस्तुओं में पवन घंटी को घर में सौभाग्य बढ़ाने का अद्भुत एवं महत्वपूर्ण स्रोत माना गया है. ये दुर्भाग्य को दूर कर सौभाग्य में वृद्धि करती है. इससे उत्पन्न मधुर ध्वनि अपने आस-पास के वातावरण को निर्मल और सुखमय बनाती है. लेकिन इसका बेहतर लाभ तभी मिलेगा जब यह सही दिशा में लगी हो और इनमें लगी छड़ों की संख्या भी अनुकूल हो क्योंकि इनमें लगी हुई छड़ों की संख्या और इनके लगाने के स्थल का वातावरण पर  बहुत प्रभाव पड़ता है. इसलिए इनको लगाते समय इन बातों का ध्यान विशेष रूप से रखें. 

यह भी पढ़े : योगी सरकार का शख्त आदेश, मंदिर हो या मस्जिद, तय मानकों से अधिक मिली आवाज तो उतारे जाएंगे लाउडस्पीकर


- घर के बाहर से आने वाली नकारात्मक ऊर्जा की दिशा मोड़ने के लिए पांच छड़ों वाली पवन घंटी लगाएं, क्योंकि यह दुर्भाग्य को दबा देती है और घर में सकारात्मक ऊर्जा का संचार करती है.

- आठ छड़ी वाली विंड चाइम का प्रयोग आप अपने ऑफिस में कर सकते हैं, यदि काम में मन नहीं लगता है या रुकावटें बहुत आती हों तो आठ छड़ी वाली विंड चाइम आपकी इस समस्या को दूर करने में सहायक हो सकती है.

- यदि आपके घर में तीन दरवाजे एक ही कतार में लगे हों, तो बीच वाले दरवाजे पर पांच छड़ वाली पवन घंटी लगाएं. इससे वास्तुदोष का असर कम हो जाता है. 

- वस्तुओं से निकलने वाली नकारात्मक ऊर्जा से बचाव के लिए भी पवन घंटी का इस्तेमाल किया जा सकता है. 

- बीमारियों से बचने के लिए एवं अध्ययन कक्ष के वास्तु दोष को दूर करने के लिए पांच छड़ वाली विंडचाइम लगाना बेहतर विकल्प है इससे हर क्षेत्र में सफलता मिलती है. इसी प्रकार यदि आपके बच्चे लापरवाह हैं और मनमर्ज़ी करते हों तो उनके कमरे में छह रॉड वाली विंड चाइम लटकाने से लाभ मिलेगा.

- उत्तर- पश्चिम का कोना जीवन में सहायक सिद्ध होने वाले व्यक्तियों से संबंधित भाग्य का कोना है. यहां छड़ वाली पवन घंटी के लटकाने से सौभाग्य में वृद्धि होती है. क्योंकि इस कोने का रक्षक तत्व धातु है और पवन घंटियां को धातु का प्रतीक माना गया है. इसलिए इस कोण में पवन घंटी का प्रयोग सौभाग्य में वृद्धि करने तथा दुर्भाग्य के प्रभाव को कम करने के लिए किया जाता है.  

- सात छड़ों वाली पवन घंटी घर के पश्चिमी क्षेत्र का संबंध संतान एवं सृजनात्मकता से जुड़ा हुआ है. इसलिए इस दिशा में पवन घंटी का इस्तेमाल बेहतर लाभ वाला होता है. 

- घर के पश्चिमी क्षेत्र से संबंध रखने वाली संख्या सात है. इस क्षेत्र में सात छड़ों वाली पवन घंटी लगाएं. यहां की ऊर्जा में बहुत वृद्धि होती है. इससे आपके बच्चों को लाभ मिलेगा और आपकी रचनात्मक शक्ति में भी वृद्धि होगी.

- प्रवेश द्वार के पास कोई वास्तुदोष है तो उसके निवारण के लिए चार छड़ी वाली विंड चाइम मेनगेट पर लगानी चाहिए. इसे दरवाज़े पर परदे के पास इस प्रकार लटकाना चाहिए ताकि आने-जाने से हिलकर यह मधुर ध्वनि उत्पन्न कर सके. इससे वातावरण में सकारात्मक ऊर्जा के स्तर में वृद्धि होती है.