बसंत पंचमी मां सरस्वती (Maa saraswati) को समर्पित होता है। इस दिन मां की पूजा की जाती है और पीले वस्त्र पहने जाते हैं। हर साल माघ महीने के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को बसंत पंचमी के रूप में मनाया जाता है। इस साल 2022 (Basant Panchami special) में मां सरस्वती का ये पर्व 5 फरवरी को मनाया जाएगा।
इस दिन कुछ खास बातों का ध्यान में रखा जाए तो अच्छा होगा क्योंकि इस दिन कुछ कार्यों का करना बिल्कुल भी अच्छा नही माना जाता है। कहा जाता है इन निम्न दी गई गलतियों के करने से मां सरस्वती रुष्ट हो जाती है, जैसे कि जानिए......
शास्त्रों इस बात का उल्लेख किया गया है कि बसंत पंचमी के दिन पीले रंग के कपड़े पहनना शुभ होता है।

  • इस दिन गलती से भी काले या लाल रंग के कपड़े नहीं पहनने चाहिए।
  • बसंत पंचमी के दिन से ही वसंत ऋतु की भी शुरुआत होती हैं। पेड़-पौधों में नए कोपले निकलने शुरू हो जाते हैं।
  • इस खास दिन पेड़-पौधे को कभी नहीं काटना चाहिए।
  • वसंत पंचमी के दिन कभी भी बिना स्नान के भोजन नहीं करना चाहिए, ऐसा करना अशुभ माना जाता है।
  • बसंत पंचमी के दिन घर पर किसी को भी मांस-मंदिरा का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • बसंत पंचमी के दिन ज्ञान की देवी मां सरस्वती (Maa saraswati) की पूजा-अर्चना की जाती हैं,इसलिए किसी के लिए बुरा ना सोचना चाहिए ना ही करना चाहिए।