ग्रह वक्त के साथ आते जाते रहते हैं। सूर्य की तरह इनका उदय और अस्त होना आम बात है लेकिन फर्क बस इतना सा है कि सूर्य रोज उदय-अस्त होते हैं और ग्रह काफी लंबे समय बाद उदय और अस्त होते हैं। इससे राशियां प्रभावित होती है, जिससे राशियों के लोगों को फायदा और नुकसान दोनों उठाने पड़ते हैं।

ज्योतिष के मुताबिक देवगुरु बृहस्पति 22 फरवरी 2022 को अस्त (Guru Asta) होने जा रहे हैं और 23 मार्च 2022 को उदित होंगे। गुरु अस्त का इन राशि वाले लोगों को मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है।
इन राशि वालों की बढ़ेंगी मुश्किलें-

गुरु अस्त (Guru Asta) होने से

कर्क (Cancer)- इस राशि वालों को इस दौरान किसी भी नए काम की शुरुआत करने से बचना चाहिए।
मीन (Pisces)- इस दौरान शत्रु हावी हो सकते हैं। किसी भी वाद-विवाद से बचना चाहिए।
धनु (Sagittarius)- इस राशि वालों की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। धनु राशि वालों को वाणी पर कंट्रोल रखने की सलाह दी जाती है
गुरु अस्त के दौरान नहीं होंगे मांगलिक कार्य-

गुरु बृहस्पति फरवरी में अस्त हो जाएंगे। गुरु को विवाह, संपन्नता, सौभाग्य, धार्मिक कार्य और धन-संपदा आदि का कारक माना जाता है। गुरु ग्रह के अस्त (Guru Asta) के साथ मांगलिक कार्यों पर भी विराम लग जाएगा। इस दौरान शादी-विवाह, मुंडन, नामकरण आदि कार्यों की मनाही होती है। गुरु अस्त के चलते 22 फरवरी से 23 मार्च तक धार्मिक और मांगलिक कार्यक्रम नहीं हो सकेंगे।