ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, हर ग्रह एक निश्चित अवधि में एक राशि से दूसरी राशि में गोचर करता है। राशि परिवर्तन का सीधा असर मानव जीवन पर पड़ता है। गुरु को बुद्धि व सुख-सुविधाओं का कारक माना जाता है। देवगुरु बृहस्पति ने 12 अप्रैल को अपनी प्रिय राशि मीन में गोचर कर लिया है। गुरु राशि परिवर्तन का सभी 12 राशियों पर प्रभाव पड़ेगा। जानें किन तीन राशि वालों को गुरु राशि परिवर्तन का पड़ेगा शुभ प्रभाव-

यह भी पढ़े : Horoscope 11 May 2022: आज इन राशि वालों की चमकेगी किस्मत, खुलेगा भाग्य का ताला 


वृषभ- आपकी राशि से गुरु ग्रह का गोचर 11वें स्थान में हुआ है। जिसे आय व लाभ का स्थान कहा जाता है। इसलिए इस दौरान आपकी आय में वृद्धि के योग बनेंगे। आय के नए साधन भी बन सकते हैं। व्यापारियों को धन लाभ भी हो सकता है। आपकी कार्यशैली में निखार आएगा। बॉस आपकी तारीफ करेंगे और आपके काम को सराहना मिलेगी। नए व्यापार की शुरुआत करने वाले जातकों के लिए यह समय अनुकूल है। देवगुरु बृहस्पति आपकी राशि के 8वें भाव के स्वामी हैं। इसलिए आपके लिए यह समय अच्छा रहने वाला है।

यह भी पढ़े : Chandra Grahan 2022: इन शुभ योगों में लगेगा साल का पहला चंद्रग्रहण, इन 3 राशि वालों को होगा महालाभ


मिथुन- मिथुन राशि वालों के लिए देवगुरु बृहस्पति का राशि परिवर्तन लाभकारी रहने वाला है। गुरु ग्रह ने आपकी राशि से दशम भाव में गोचर किया है। जिसे व्यापार, नौकरी व कार्यक्षेत्र का भाव कहा जाता है। इसलिए इस दौरान आपको नई नौकरी का ऑफर आ सकता है। कारोबारियो को मुनाफा हो सकता है। मार्केटिंग व मीडिया फील्ड से जुड़े लोगों के लिए यह समय अनुकूल रहेगा। आपके लिए देवगुरु बृहस्पति का गोचर लाभकारी साबित होगा।

कर्क- कर्क राशि वालों के लिए देवगुरु बृहस्पति का गोचर शुभ समाचार लेकर आने वाला है। गुरु ग्रह का गोचर आपकी राशि के नवम भाव में हुआ है। जिसे भाग्य व विदेश यात्रा का भाव कहा जाता है। इसलिए इस समय आपको भाग्य का पूरा साथ मिलेगा। गुरु गोचर के प्रभाव से कर्क राशि वालों के लंबे समय से अटके काम पूरे होंगे। गुरु ग्रह आपकी राशि के छठवें भाव के स्वामी हैं। जिसे शत्रु का स्थान कहा जाता है। इसलिए आपको शत्रुओं पर विजय प्राप्त होगी।